मोसुल. महिलाओं के बुर्का न पहनने पर उनकी जान तक लेने वाले आतंकी संगठन आईएसआईएस ने खुद ही बुर्का पहनने पर बैन लगा दिया है. आईएस ने इराक स्थित मोसुल के सुरक्षा केंद्रों में महिलाओं के बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगाया है. ये फैसला हैरान करने वाला है लेकिन आईएस ने सुरक्षा कारणों से यह कदम उठाया है. 
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
आईएसआईएस महिलाओं के प्रति बेहद संकीर्ण और हिंसक नजरिए के लिए जाना जाता है। अपने कब्जे वाले इलाकों में महिलाओं का सिर से पांव तक ढके रहना आईएस ने अनिवार्य बना रखा है. 
 
आतंकी कई महिलाओं को बुर्का न पहनने पर मौत के घाट भी उतार चुके हैं. यहां तक कि हाल ही में सीरिया में आईएसआईएस के कब्जे से छूटी महिलाओं ने बुर्का जलाकर अपनी खुशी का इजहार भी किया था.
 
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आईएसआईएस ने आतंकियों की सुरक्षा के चलते बुर्के पर पाबंदी लगाई है. हाल ही के दिनों में कई बुर्के और नकाब वाली महिलाओं ने आईएस के बड़े कमांडरों पर जानलेवा हमले किए हैं। इसे देखते हुए अब आईएस ने बुर्के पर प्रतिबंध लगा दिया है.
 
ये पाबंदी मोसुल के सुरक्षा केंद्रों में जाने वाली महिलाओं के लिए है। आईएस के कब्जे वाले शहर के अन्य हिस्सों में बुर्का पहनना अनिवार्य ही बनेगा रहेगा।