नई दिल्ली. जम्मू कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने पर हालात बिगड़े हुए हैं. लेकिन बुरहान की मौत का असर पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान में भी दिख रहा है. पाकिस्तान प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बुरहान की मौत पर दुख जाहिर किया है और भारतीय सैन्य कार्रवाई की निंदा की है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
नवाज के कार्यालय की ओर से बयान जारी किया गया है कि यह दुखद है कि आम नागरिकों के विरुद्ध भारी संख्या में फौज का इस्तेमाल किया जा रहा है.
 
 
सेना के कड़े रुख का विरोध करते हुए नवाज की ओर से बयान आया है कि इस तरह के दमनकारी कदम जम्मू-कश्मीर की जनता को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के संकल्पों के आलोक में आत्म निर्णय के उनके अधिकारों का इस्तेमाल करने से विचलित नहीं कर सकते हैं.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
भारत का पलटवार
वहीं, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने शरीफ के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर में जो हो रहा है वह हमारा अंदरुनी मामला है और पाक बेकार इसमें दखल न दे. अगर उसे कुछ करना है तो गैर अधिकृत तरीके से जो उसने कश्मीर का हिस्सा कब्जाया हुआ है, वहां मानवाधिकार के उल्लंघन पर ध्यान दे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App