बर्लिन. ब्रिटेन के यूरोपीय यूनियन से बाहर निकलने के फैसले के बाद यूरोपीय यूनियन ने ब्रिटेन से यूनियन छोड़ने की प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू करने की अपील की है. बर्लिन में यूनियन के 6 संस्थापक देशों की बैठक के बाद कहा गया है कि भविष्य में ब्रिटेन से कैसा रिश्ता होगा, ये बात शुरू होनी चाहिए.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
28 देशों के यूरोपीय यूनियन के 6 संस्थापक देशों जर्मनी, फ्रांस, इटली, बेल्जियम, नीदरलैंडस और लक्जमबर्ग के विदेश मंत्रियों की बैठक में साझा यूरोपीय भविष्य का कमिटमेंट दोहराया गया. यूनियन ने ब्रिटेन के फैसले पर दुख जताया लेकिन फैसले के बोझ से दबने के बजाय भविष्य की तैयारी पर जोर दिया.
 
जर्मन विदेश मंत्री फ्रेंक वॉल्टर ने 6 देशों की बैठक में कहा कि हम लोग एक समझौते में बंधे है इसलिए ब्रिटेन को यूनियन से बाहर निकलने की प्रक्रिया जल्द से जल्द शुरू कर देनी चाहिए.
 
Stay Connected with InKhabar | Android App | Facebook | Twitter
 
मीटिंग के बाद साझा बयान में कहा गया है कि ब्रिटेन के रूप में यूनियन सिर्फ एक सदस्य देश नहीं, इतिहास-परंपरा-अनुभव का एक हिस्सा खो रहा है. यूनियन ने कहा है कि बचे हुए 27 देश आगे भी कॉमन वैल्यू और कानून के आधार पर यूरोपीय एकता को कायम रखेंगे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App