संयुक्त राष्ट्र. संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत का आर्थिक विकास चीन को पीछे छोड़ देगा और 2016 में इस देश का सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) विकास दर 7.7 प्रतिशत रहने की संभावना है. इसमें कहा गया कि भारत दक्षिण एशिया के आर्थिक विकास को तेज करने में मदद करेगा.
  
यह पूर्वानुमान मंगलवार को जारी संरा विश्व आर्थिक स्थिति एवं संभावनाओं के अर्धवाषिर्क अद्यतन रिपोर्ट में प्रकट किया गया है. इसमें कहा गया कि भारत की अर्थव्यवस्था इस वर्ष 7.6 प्रतिशत की दर से विकास करने की संभावना है. यह दर 2016 में 7.7 प्रतिशत रह सकती है और भारत इस मामले में चीन को पीछे छोड़ देगा.
 
चीन की विकास दर 2015 में सात प्रतिशत और उसके अगले वर्ष 6.8 प्रतिशत रहने का अनुमान है. रिपोर्ट में दक्षिण एशिया के आर्थिक परिदृश्य को बहुत हद तक अनुकूल करार दिया गया है. इसके अनुसार अधिकतर अर्थव्यवस्थाएं का विकास 2015.916 में मजबूत होने की संभावना है. यह विकास मजबूत घरेलू उपभोग एवं निवेश तथा निर्यात में वृद्धि के कारण होगा.

IANS

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App