वॉशिंगटन. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वाशिंगटन में परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में भाग लेने के बाद आज से दो दिन के सऊदी अरब दौरे के लिए रवाना हो गए. वह सऊदी अरब के सुल्तान सलमान बिन अब्दुल अजीज अल सउद के आमंत्रण पर रियाद पहुंच रहे हैं. यहां प्रधानमंत्री भारतीय लोगों से भी मुकालात करेंगे. बता दें कि साल 2010 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के दौरे के बाद यह सऊदी अरब के लिये सबसे उच्च स्तरीय दौरा माना जा रहा है. 
 
कई मुद्दों पर होगी चर्चा
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोदी इस दौरान शाह सलमान के साथ आतंकवाद विरोधी व्यवस्था को विस्तत बनाने और ऊर्जा, व्यापार के क्षेत्र में निवेश बढ़ाने सहित कई मुद्दों पर चर्चा करेंगे. इससे पहले आतंकवाद विरोधी लड़ाई में बढ़ते सहयोग का संकेत देते हुए सऊदी अरब ने कुछ साल पहले मुंबई हमले के आरोपी अबू जंदल को प्रत्यर्पित किया था. 
 
सुल्तान की ओर से मोदी को दोपहर का भोज 
इसके अलावा दोनों नेताओं के बीच बातचीत में भारतीय समुदाय के कल्याण और हज श्रद्धालुओं का मुद्दा प्रमुख रह सकता है. सुल्तान सलमान मोदी के लिए दोपहर के भोज का आयोजन करेंगे. जिसमें प्रमुख मंत्री और अधिकारी शामिल होंगे.
 
कंपनियों के CEO से करेंगे मुलाकात
रियाद में प्रधानमंत्री सऊदी अरब की कंपनियों के सीईओ से मुलाकात करेंगे, वह मशहूर मासमाक किला जाएंगे. साथ ही उस टाटा कंसलटेंसी सेंटर का दौरा भी करेंगे. जिसने 1,000 से अधिक सऊदी महिलाओं को प्रशिक्षित किया है.
 
इससे पहले न्यूक्लियर समिट में लिया हिस्सा
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने अमेरिका में न्यूक्लियर समिट में हिस्सा लिया और कई देशों के प्रमुखों से मिले. समिट में पीएम ने आतंकवाद, परमाणु हथियार जैसे मुद्दों पर भारत का पक्ष रखा. पीएम मोदी ने इस दौरान कई घोषणाएं भी की.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App