अंकारा. तुर्की की राजधानी अंकारा में एक महीने में दूसरी बार बम ब्लास्ट हुआ है. रविवार को हुए कार बम विस्फोट में 34 लोगों की मौत हो गई और 125 घायल हो गए. रविवार रात किजिले चौक पर हमलावरों में एक्सप्लोसिव्स से भरी बीएमडब्ल्यू में आई वह महिला भी शामिल है, जिसने बस स्टॉप पर धमाका किया. ब्लास्ट इतना ताकतवर था कि एक चलती बस में मौजूद 40 में से 20 पैसेंजरों की सीट पर ही मौत हो गई.
 
स्वास्थ्य मंत्री ने दी जानकारी
स्वास्थ्य मंत्री मेहमत मुजिनोग्लू ने कहा कि घटनास्थल पर 30 लोगों की मौत हो गई जबकि चार अन्य ने अस्पताल ले जाते वक्त दम तोड़ दिया. उन्होंने बताया कि मृतकों में से एक या दो हमलावर हो सकते हैं. उन्होंने कहा कि लगभग 19 लोगों की हालत गंभीर है. सात लोगों की सर्जरी की जा रही है, मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है. अभी तक किसी भी आतंकवादी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. 
 
राष्ट्रपति ने की निंदा
तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एरडोगन ने लिखित बयान जारी कर इस हमले की निंदा करते हुए कहा, “क्षेत्र में अस्थिरता की वजह से तुर्की आतंकवादियों के निशाने पर है.” उन्होंने कहा कि तुर्की आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई को जारी रखेगा. अंकारा में अक्टूबर 2015 के बाद यह तीसरा बड़ा विस्फोट है. 
 
इससे पहले भी हुआ हमला
आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने 10 अक्टूबर 2015 को अंकारा के रेलवे स्टेशन के पास एक रैली में बम विस्फोट कर दिया था, जिसमें 103 लोगों की मौत हो गई थी. इसके बाद 17 फरवरी 2016 को अंकारा में सैन्य शटल को निशाना बनाकर आत्मघाती कार बम विस्फोट किया गया. इसमें 29 लोगों की मौत हो गई थी और 81 घायल हो गए थे.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App