वाशिंगटन. अमेरिका के कैलिफोर्निया राज्य के सैन फ्रांसिस्को में भारतीय मूल की अमेरिकी महिला धोखाधड़ी के आरोप में गिरफ्तार की गई है. यह महिला खुद को कैंसर मरीज बताकर ‘गिविंग फॉरवर्ड’ जैसे चंदा इकट्ठा करने वाली ऑनलाइन साइट्स के जरिए धन जुटा रही थी. यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली.
 
अमेरिकन बाजार पोर्टल के मुताबिक मनीषा नागरानी (40) अपने को कैंसर की मरीज बताकर ‘गिविंग फॉरवर्ड’ जैसी चंदा जुटाने वाले ऑनलाइन साइट से फर्जी अपील कर रही थी. अभी यह पता नहीं चला है कि उसने कितना धन इकट्ठा किया है. 
 
एक अमेरिकी वेबसाइट हबकल्चर डॉट कॉम ने भी मनीषा की सहायता के लिए प्रयास किया. इसने मनीषा की फर्जी अपील को चंदा जुटाने वाले साइट गिविंग फॉरवर्ड से जोड़ दिया. हबकल्चर के मुताबिक मनीषा सैन फ्रांसिस्को में मार्केटिंग कंसल्टेंट के रूप में काम कर रही थी. बीते सालों में वह जनसंपर्क और प्रौद्योगिकी से संबंधित कई संस्थाओं से जुड़ी रही है.
 
पहले 2014 में नागरानी ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा, “बीस दिन पहले मुझे एक ऐसी सूचना मिली जिसे कोई सुनना नहीं चाहता. एमडीएस (माइलोडिस्प्लास्टिक सिंड्रोम) से लड़ते-लड़ते मेरा स्वास्थ्य खराब हो गया है. मुझे ‘आधिकारिक रूप से’ जाने की (मौत की) तारीख भी मिल गई है.” 
 
फेसबुक पर अपना दुख जाहिर करते हुए उसने लिखा, “अगर मेरे चिकित्सक सही हैं तो मैं अपने बच्चों का अगला जन्मदिन नहीं मना पाऊंगी. मैंने जो सपने देखे हैं, उसे साकार करने का मुझे मौका भी नहीं मिलेगा.”

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App