सियोल. उत्तर कोरिया ने बुधवार को कहा कि उसने पुन्गेय-री में हाइड्रोजन बम का सफल टेस्ट किया है, जिसके बाद आसपास के इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए. उत्तर कोरिया के स्टेट टीवी के मुताबिक, बुधवार सुबह दस बजे (लोकल टाइम) यह टेस्ट हुआ है. पुन्गेय-री में इससे पहले भी न्यूक्लियर टेस्ट हो चुका है. 8 जनवरी को उत्तर कोरिया के सुप्रीम लीडर किम जोंग उनका बर्थडे आने वाला है.
 
बता दें कि इससे पहले अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे ने उत्तर कोरिया में परमाणु टेस्ट स्थल के पास 5.1 तीव्रता का भूकंप दर्ज किए जाने की बात कही थी, जिससे इन आशंकाओं को बल मिला था कि पुंगये-री ने एक ताजा परमाणु विस्फोट किया है. इस भूकंप का केंद्र किलजू शहर के पश्चिमोत्तर में करीब 50 किलोमीटर दूर देश के पूर्वोत्तर में था. यानी इसका केंद्र पुंगये-री परमाणु टेस्ट स्थल के निकट था.
 
वहीं, भूकंप आने के बाद चीन, जापान और दक्षिण कोरिया ने आशंका जताई थी कि उत्तर कोरिया में बुधवार को दर्ज किया गया भूकंप परमाणु टेस्ट का नतीजा हो सकता है. उनका कहना था कि इस तरह के संकेत हैं कि भूकंप की वजह प्राकृतिक नहीं है. दक्षिण कोरिया की मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वहां के मंत्रियों ने एक आपात बैठक बुलाई है.
 
उत्तर कोरिया पहले भी कर चुका है टेस्ट
उत्तर कोरिया 2006, 2009 और 2013 में न्यूक्लियर बम की टेस्टिंग कर चुका है. परमाणु टेस्ट के कारण उत्तर कोरिया दुनिया भर से अलगाव झेल रहा है. अमेरिका से उसके संबंध बेहद खराब हैं. उत्तर कोरिया के पड़ोसियों से भी संबंध ठीक नहीं है. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App