वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कैलिफोर्निया में हुई गोलीबारी के पीछे आतंकी संगता होने का अंदेशा जताया है. कैलिफोर्निया के सैन बर्नार्दिनों शहर में बुधवार इस गोलीबारी में 14 लोगों की जान चली गई और 17 घायल हो गए. हमलावर काले रंग की एसयूवी में आए थे.
 
घटना का कारण अब तक पता नहीं चल पाया है. बाद में हुई गोलीबारी में पुलिस ने एक महिला सहित दो संदिग्धों को मार गिराया. तीन संदिग्धों में से एक पकड़ा जा चुका है. ओवल ऑफिस में राष्ट्रीय सुरक्षा टीम से मुलाकात के बाद ओबामा ने व्हाइट हाउस के पूल रिपोर्टर्स को बताया ‘‘हमें अभी नहीं पता है कि यह भयावह घटना क्यों हुई.’’ ओबामा ने कहा कि हमलावरों के पास हथियार थे और ऐसा लगता है कि उनके घर पर और हथियार होंगे. लेकिन उन्होंने यह क्यों किया, इस बारे में अभी पता नहीं है.
 
राष्ट्रपति ने कहा ‘‘हो सकता है कि यह आतंकवादियों से संबंधित घटना हो. लेकिन हमें पता नहीं. यह भी हो सकता है कि यह घटना कार्यस्थल से संबंधित हो या इसके पीछे मिलेजुले कारण हों. ओवल ऑफिस में बोल रहे ओबामा ने अमेरिकियों को आश्वासन दिया कि जो कुछ हुआ, प्राधिकारी उसकी तह तक जाएंगे. उन्होंने लोगों से कोई भी फैसले करने से पहले तथ्यों का इंतजार करने को भी कहा.
 
राष्ट्रपति ने कहा कि कई अमेरिकियों को लगता है कि सामूहिक हिंसा के बारे में वह कुछ नहीं कर सकते. लेकिन ‘‘हम सभी को अपनी जिम्मेदारी निभानी है.’’ ओबामा ने कहा कि हिंसा के बारे में देश को कठोर रूख अपनाना होगा. लेकिन उन्होंने कहा कि खतरे को पूरी तरह खत्म नहीं किया जा सकता. उन्होंने कहा कि सभी अमेरिकियों और कानून निर्माताओं के लिए यह सोचना महत्वपूर्ण होगा कि वह क्या कर सकते हैं.
 
एजेंसी 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App