Sunday, September 25, 2022

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में क्यों बरपा हंगामा, जानिए दूसरे केंद्रीय विश्वविद्यालयों की तुलना में कितनी है फीस

Allahabad University:

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज शहर में स्थित इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की फीस बढ़ाए जाने को लेकर विवाद बढ़ गया है। यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स इसे लेकर लगातार विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। सियासी गलियारों में भी फीस बढ़ोत्तरी को लेकर हंगामा देखा जा रहा है।

फंड का इंतजाम खुद करे

दूसरी तरफ सरकार ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि उन्हें अपने स्तर पर फंड का इंतजाम करना होगा। विश्वविद्यालय को सरकार पर निर्भरता कम करनी होगी। सरकार का कहना है कि दूसरे विश्वविद्यालय की तरह इलाहाबाद विश्वविद्यालय के फंड से भी कटौती की गई है।

वर्षो बाद हुई है बढ़ोत्तरी

इलाहाबाद विश्वविद्यालय में वर्षो बाद फीस बढ़ोत्तरी की जा रही है। अन्य विश्वविद्यालयों के अनुपात में ही यहां पर भी फीस बढ़ोत्तरी की गई है। इस बढ़ोत्तरी के बाद भी विश्वविद्यालय में कोर्स की फीस दूसरे विश्वविद्यालयों की तुलना में कम ही है।

यहां भी हुआ है इजाफा

बता दें कि सरकार द्वारा सिर्फ इलाहाबाद विश्वविद्यालय में ही फीस बढ़ोत्तरी नहीं की जा रही है। इसके साथ ही अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी और अन्य यूनिवर्सिटियों में भी पिछले कई वर्षों में लगातार फीस बढ़ोत्तरी की गई है। इलाहाबाद विश्वविद्यालय और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पहले की फीस और वर्तमान की फीस में स्पष्ट अंतर देखा जा सकता है।

AU में पहले कितनी थी फीस

इलाबाद विश्वविद्यालय में सबसे ज्यादा स्टूडेंट्स ग्रेजुएशन की पढ़ाई करते हैं। उनसे अभी तक हर महीने 12 रूपये ट्यूशन फीस ली जाती थी। पूरे साल में ट्यूशन फीस के तौर पर बीए, बीएसी और बीकॉम के स्टूडेंट्स को से सिर्फ 144 रूपये लिए जाते थे। इसके साथ ही परीक्षा शुल्क, बिल्डिंग मेंटेनेंस, पुअर ब्वायज फंड, स्पोर्ट्स लाइब्रेरी, आई कार्ड, मार्कशीट की फीस को मिलाकर पूरे साल में कुल 975 रूपये स्टूडेंट्स से लिए जाते थे। प्रैक्टिकल के लिए लैब की 145 रूपये की फीस अलग से ली जाती थी।

AU में अब कितनी है फीस

बढ़ी हुई फीस में अब ग्रेजुएशन यानि बीए, बीएससी और बी.कॉम के स्टूडेंट्स को सालाना 975 रूपये के बदले 3901 रूपये देने होंगे। प्रैक्टिल फीस भी अब 145 रूपये की जगह 250 रूपये देनी होगी। इसी तरह एमएससी की फीस 1561 रूपये की जगह 4901 रूपये, एमकॉम की फीस 1561 रूपये के बदले 4901 रूपये, तीन साल के एलएलबी की फीस 1275 रूपये से 4651 रूपये, एलएलएम की फीस 1561 रूपये से बढ़कर 4901 रूपये और पीएचडी की सालना फीस 501 रूपये से बढ़कर 15300 रूपये देनी होगी।

AMU में कितनी है फीस

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में फीस स्ट्रक्चर की बात करें तो एएमयू में ग्रेजुएशन कर रहे स्टूडेंट्स को 9125 रुपये की सालाना फीस देनी पड़ रही है। हॉस्टल में रहे रहे स्टूडेंट्स को 11275 रुपये सालाना जमा देने पड़ रहे हैं। वहीं पोस्ट ग्रेजुएशन में 9680 रुपये सालाना स्टूडेंट्स को जमा करने पड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें-

Russia-Ukraine War: पीएम मोदी ने पुतिन को ऐसा क्या कह दिया कि गदगद हो गया अमेरिका

Raju Srivastava: अपने पीछे इतने करोड़ की संपत्ति छोड़ गए कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Latest news