Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
SHEHNAAZ GILL

शहनाज गिल ने पैपराजी को बोली ऐसी बात जिसके बाद हो रही हैं ट्रोल

0
मुंबई: शहनाज गिल किसी न किसी वजह से सुर्ख़ियों में रहती हैं। फैंस उन्हें हर अंदाज में देखना पसंद करते हैं। शहनाज आज किसी...

क्या हिमाचल में गुजरात और उत्तराखंड फार्मूला न अपनाकर भाजपा ने की कोई बड़ी...

0
नई दिल्ली. हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजे बीते दिन आ गए. कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव में 40 सीटें जीतकर सत्ता को अपने...
fire

गाज़ियाबाद: शार्ट सर्किट से गोदाम में लगी भीषण आग

0
गाज़ियाबाद. गाज़ियाबाद के गोदाम में भीषण आग लग गई है. यहाँ, शार्ट सर्किट के चलते गोदाम में भीषण आग लग गई. ये गाज़ियाबाद के...
Is gold is going to extinct from world

क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना?

0
क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना? सोने का इस्तेमाल आम इंसानों से लेकर दुनिया भर की सरकारें करती हैं। सोने के बग़ैर...

UP Crime: बीवी ने दोबारा सेक्स करने पर जताया ऐतराज़ तो पति ने गला...

0
UP Crime: उत्तर प्रदेश के अमरोहा ज़िले से रिश्तों को तार-तार करने वाला वाकया निकलकर सामने आ रहा है. जहाँ पर एक पति ने...

What is Patra Chawl scam: क्या है संजय राउत, पत्नी और बेटी का लिंक; जानें क्या पात्रा चॉल घोटाला

मुंबई, शिवसेना सांसद संजय राउत पात्रा चॉल जमीन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में फंसे हैं, इसी मामले के तहत उन्हें हिरासत में लिया गया है. एक ओर जहाँ ED ने उन्हें हिरासत में लिया है वहीं दूसरी और संजय राउत का दावा है कि उन्हें झूठ में फंसाया जा रहा है उनका इस घोटाले से कोई लेना-देना नहीं है. आइए आपको बताते हैं कि पात्रा चॉल जमीन घोटाला से जुड़ा यह मनी लॉन्ड्रिंग केस क्या है? और यह कब और कैसे शुरू हुआ?

क्या है पात्रा चौल ज़मीन घोटाला

पात्रा चॉल जमीन घोटाले की शुरुआत साल 2007 से हुई, महाराष्ट्र हाउसिंग एंड डिवलपमेंट अथॉरिटी यानी म्हाडा, प्रवीण राउत, गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन और हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (HDIL) की मिली भगत से यह घोटाला किया गया, साल 2007 में म्हाडा ने पात्रा चॉल के रिडिवेलपमेंट का काम गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन को सौंपा, यह कंस्ट्रक्शन गोरेगांव के सिद्धार्थ नगर में होना था. म्हाडा की 47 एकड़ जमीन में कुल 672 घर बने हैं, जबकि रीडिवेलपमेंट के बाद गुरु आशीष कंपनी को साढ़े तीन हजार से ज्यादा फ्लैट बनाकर देने थे और म्हाडा के लिए फ्लैट्स बनाने के बाद बची हुई जमीन को प्राइवेट डिवलपर्स को बेचना था. लेकिन 14 साल के बाद भी कंपनी ने लोगों को फ्लैट बनाकर नहीं दिए.

क्या है संजय राउत का कनेक्शन

गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन ;पर आरोप है कि फ्लैट बनाने की बजाए इन्होने 47 एकड़ जमीन को आठ अलग-अलग बिल्डरों को बेच दी थी, इससे कंपनी ने 1034 करोड़ रुपये कमाए थे. वहीं मार्च 2018 में म्हाडा ने गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी. मामला आर्थिक अपराध विंग यानी EOW को सौंपा गया. EOW ने फरवरी 2020 में प्रवीण राउत को गिरफ्तार कर लिया, बताया जाता है कि प्रवीण राउत, संजय राउत के बहुत करीबी थे और वह एचडीआईएल में सारंग वधावन और राकेश वधावन के साथ कंपनी में निदेशक थे. वधावन बंधु PMC बैंक घोटाले के मुख्य आरोपी हैं, हालांकि प्रवीण राउत को कोर्ट ने जमानत दे दी लेकिन पीएमसी बैंक घोटाले के मामले में प्रवीण को ईडी ने गिरफ्तार कर किया.

संजय राउत की पत्नी का कनेक्शन

प्रवीण राउत को ईडी ने गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की थी, इसके बाद इस मामले में सुजीत पाटकर का नाम आया, फिर जब ईडी ने सुजीत पाटकर के ठिकानों पर छापेमारी की तो छापेमारी में कई अहम दस्तावेज मिले. ईडी की जांच में सामने आया कि प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी राउत ने संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को एक लोन दिया था और यह लोन 55 लाख रुपये का था लेकिन बैंक में बिना कोई दस्तावेज दिए ये लोन पास हो गया. बैंक से लिए गए 55 लाख रुपयों से वर्षा राउत ने दादर में एक फ्लैट खरीदा और इस फ्लैट के सिलसिले में ईडी ने वर्षा राउत से पूछताछ की.

संजय राउत की बेटी का कनेक्शन?

आरोप है कि म्हाडा लैंड डील में प्रवीण राउत को कमीशन के रूप में 95 करोड़ रुपये मिले थे, और प्रवीण से पूछताछ में जिस सुजीत पाटकर का नाम सामने आया, सुजीत भी संजय राउत का करीबी माना जाता है. इसके अलावा सुजीत पाटकर की एक वाइन ट्रेडिंग कंपनी है, जिसमें संजय राउत की बेटी उसकी पार्टनर है.

संजय राउत से लैंड डील में एक और लिंक जुड़ रहा है, दरअसल, संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत और सुजीत पाटकर की पत्नी ने अलीबाग में एक जमीन खरीदी थी और ईडी का मानना है कि इस जमीन को खरीदने के लिए भी रुपयों की हेराफेरी की गई थी. अब ईडी सारे मामलों की जांच के बाद सारे लिंक की कडियां जोड़ने में लगी है, हालांकि संजय राउत ने इन सभी आरोपों को खारिज किया है.

वर्षा राउत की संपत्ति जब्त

संजय राउत पर जिस जमीन घोटाले में शिकंजा कस रहा है, आइए उसके बारे में आपको बताते हैं. संजय राउत पर पात्रा चॉल लैंड स्कैम में करीब 1034 करोड़ के घोटाले का आरोप है. इस मामले में संजय राउत के सहयोगी प्रवीन राउत की 9 करोड़ रुपये और संजय राउत की पत्नी वर्षा की 2 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई है.

 

Mann Ki Baat: पीएम मोदी की देशवासियों से अपील- 15 अगस्त तक अपनी प्रोफाइल पिक्चर पर लगाएं तिरंगा

Latest news