उत्तराखंड : Uttrakhand

Punjab Congress पंजाब कांग्रेस के बाद अब उत्तराखंड कांग्रेस Uttrakhand Congress में भी उथल पुथल सी मच गई है।ऐसा होना भी स्वाभाविक था की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ट नेता हरीश रावत Harish Rawat ट्वीट करें ओर हलचल ना हो ये उत्तराखंड राजनीति में हो नही सकता। याद रहे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत राहुल गांधी की कांग्रेस रैली से अपने पोस्टर हटाए जाने से खफा थे जिसका मौका भाजपा खोना नही चाहती थी।

भाजपा अध्यक्ष ने पोस्टर विवाद को आड़े हाथ लिया

उत्तराखंड राजनीति के अध्याय में कांग्रेस की आपसी कला पर तंज करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि विपक्ष का कार्य आपस में लड़ना नही बल्कि लोगों की आवाज बन कर विधानसभा के बाहर आवाज को उठाना होता है और उसे सरकार के सामने लाना होता है लेकिन लगता है विपक्ष इसके लिए तैयार नही क्योंकि पिछले 5 सालों में 10 गुट और 11 विधायक रहे हैं।

भाजपा कर रही है अंदरूनी कलह, क्या है मामला उत्तराखंड कांग्रेस का

कांग्रेस की आपसी कलह कम होने का नाम नही ले रही हैं पहले पंजाब तो अब उत्तराखंड, पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और देवेंद्र यादव के बीच राहुल गांधी की रैली के दौरान पोस्टर हटाने का विवाद सामने आया। उधर हरीश रावत के सलाहकार सुरेंद्र अग्रवाल का कहना है की भाजपा अपनी हरकतों से बाज नही आ रही है वो कांग्रेस के अंदर आपस में लोगों को भड़का रही है जिस से आपसी कलह होना लाज़मी है ओर ऐसा करना भाजपा का पुराना खेल है। ये कांग्रेस का आपसी विवाद है इस पर दूसरे राजनैतिक पार्टियों को दूर रहना चाहिए।

जल्द लाना होगा पार्टी में सुधार

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के करीबी लोगों का मानना है कि अगर उत्तराखंड कांग्रेस कार्यप्रणाली को जल्द ही सुधारा नही गया तो हालत मौजूदा समय को देखते हुए बहुत ज्यादा खराब हो सकते हैं । इसलिए कांग्रेस आलाकमान को जल्द ही कोई फैसला ले लेना चाहिए।

यह भी पढ़ें :

हिंदू महासभा की नेता के विवादित बोल – कॉपी किताबें रखो और हाथ में शस्त्र उठा लो, इस्लामिक भारत नहीं ये हिन्दूराष्ट्र घोषित होगा

Pro Tennis League Season 3 Day 2 इंडियन एविएटर्स की जीत का सिलसिला दूसरे दिन भी जारी

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर