उत्तर प्रदेश. कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेश की योगी सरकार Yogi government ने अहम आदेश जारी किया है। इस आदेश के तहत अगर किसी निजी कंपनी का कोई भी कर्मचारी कोवड पॉजिटिव पाया जाता है तो उसे ‘लीव विद पे’ दी जाए। यानि कोरोना संक्रमण होने पर कर्मचारी को 7 दिनों की छुट्टी दी जाएगी और इस दौरान उसकी सैलरी भी नहीं कटेगी। बता दें कि इससे पहले CM योगी ने यूपी के सभी सरकारी और निजी कार्यालयों में एक समय में सिर्फ 50 फीसदी कर्मचारियों की उपस्थिति को मान्य कर रखा है।

यूपी में तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

उत्तर प्रदेश में कोरोना ने रफ्तार पकड़ी है। बीते एक हफ्ते में कोरोना संक्रमितों की संख्या में 13 गुना बढ़ोत्तरी हुई है। पिछले रविवार को राज्य में जहां सिर्फ 552 नए कोरोना मरीज मिले थे वहीं सोमवार तक ये संख्या बढ़कर 8334 तक पहुंच गई है। इसमें अकेले राजधानी लखनऊ में ही 1100 से ज्यादा नए केस मिले हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 25,974 तक हो गई है। हालांकि राहत की खबर यह है कि पिछले 24 घंटे में 253 और अब तक कुल 16,88,648 लोग कोविड-19 से ठीक हो चुके हैं।

वैक्सीनेशन का कार्य जोरों पर

यूपी में कोविड वैक्सीनेशन का कार्य निरन्तर जारी है। एक रिपोर्ट के मुताबिक प्रदेश में शनिवार तक 18 साल से अधिक वाले करीब 90 फीसदी लोंगों को पहली डोज दी जा चुकी है। दुसरी डोज की खुराक भी तकरीबन 53.28 प्रतिशत लोग ले चुके हैं। बात करें 15 से 18 वर्ष के बच्चों के वैक्सीनेशन की तो अब तक करीब 21,54,908 डोज लगाई जा चुकी हैं। यानी अनुमानित संख्या के 15.38 प्रतिशत बच्चों को कोरोना की पहली खुराक दी जा चुकी है। कुल मिलाकर प्रदेश में अब तक 22,25,19,497 टीके लग चुके हैं।

यह भी पढ़ें :

Covid-19: बिहार में कोरोना आउट ऑफ कंट्रोल, पटना में महिला डॉक्टर समेत तीन संक्रमितों की मौत

Monkey Took Away 3 Month Old Child: बागपत में बंदर ने ली 3 महीने के मासूम की जान, रात में उठाकर ले गया था

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर