Monday, August 15, 2022

उदयपुर: पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सौंपा गया कन्हैयालाल का शव, थोड़ी देर में होगा अंतिम संस्कार

उदयपुर हत्याकांड:

जयपुर। राजस्थान के उदयपुर में कल एक दर्जी की नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने की वजह से निर्मम हत्या कर दी गई। हत्यारों ने हत्या की वीडियो रिकार्ड कर सोशल मीडिया पर भी पोस्ट किया। इस हत्याकांड ने पूरे देश को सकते में डाल दिया है। इसी बीच आज मृतक दर्जी कन्हैयालाल के शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है।

घर के बाहर जमकर नारेबाजी

कन्हैयालाल की हत्या के बाद से ही पूरे उदयपुर में तनाव का माहौल है। इस दौरान मृतक दर्जी के बाहर लोगों की भारी भीड़ मौजूद है। लोग कन्हैयालाल अमर रहे और हत्यारों के मुर्दाबाद के नारे लगा रहे है। जानकारी के मुताबिक कुछ ही देर में मृतक के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया जाएगा।

कौन हैं कन्हैया लाल के हत्यारे?

बता दें कि कन्हैया लाल की बेरहमी से हत्या करने वाले दोनों आरोपी की पहचान हो चुकी हैं। दोनों की पहचान उदयपुर के सूरजपोल क्षेत्र के निवासी गौस मोहम्मद, बेटे रफीक मोहम्मद और अब्दुल जब्बार के बेटे रियाज के रूप में की गई है। राजसमंद पुलिस अधीक्षक सुधीर चौधरी ने बताया कि, आरोपियों की पहचान की पुष्टि हो गई है।

आतंकी घटनाओं में शामिल होने का शक!

गौरतलब है कि दर्जी कन्हैया की हत्या करने वाले आरोपियों ने जुर्म को स्वीकार करते हुए वीडियो पोस्ट किया था। इन दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जिनमें से एक की पहचान रियाज अख्तरी के रूप में की गई। अख्तरी का संबंध पाकिस्तान स्थित दावत-ए-इस्लामी से बताया जा रहा है। इस संगठन की भारत में भी ब्रांच हैं। दावत-ए-इस्लामी के कुछ मेंबर 2011 में पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के गवर्नर सलमान तासीर की हत्या समेत कई आतंकी घटनाओं में शामिल थे। आशंका जताई जा रही है कि हमलावरों के ISIS से संबंध हो सकते हैं। पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपियों को राजसमंद जिले के भीम क्षेत्र से दबोचा गया।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news