Mumbai : मुंबई

बॉलीबुड के दबंग सलमान खान Salman Khan 27 दिसम्बर 2021 को 56 साल के हो चुके हैं. सलमान खान हर साल अपना जन्मदिन ( Birthday ) पनवेल Panvel स्थित अपने फार्महाउस ( Farm house ) में मनाते हैं. इस दिन सुबह से ही बांद्रा स्थित इनके घर गैलेक्सी अपार्टमेंट में फैंस और शुभचिंतकों का जमावड़ा लगा रहता है. और दबंग खान अपने चाहने वालों का अभिवादन करने घर की बालकोनी तक जरूर आते हैं. उस समय तो ट्रैफिक का हाल पूंछिये ही मत इनके चाहने वालों से लंबा ट्रैफिक जाम लग जाता है.

इस वजह से आम राहगीरों को काफी मशक्कत का सामना करना पड़ता है.
गौरतलब है, करीब 31 साल के फिल्मी करियर के दौरान कई उतार-चढ़ाव देखने के बावजूद भी सलमान खान बॉक्स ऑफिस के चमचमाते 75 एमएम के परदे पर बने हुए हैं.

शिखर की शुरूआत 

साल 1988 में आई फिल्म बीवी हो तो ऐसी में जानी मानी अभिनेत्री रेखा के साथ एक सहायक एक्टर के रूप में सलमान खान ने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा
साल 1989 में आई फिल्म मैने प्यार किया में सलमान खान ने बतौर एक्टर रोल प्ले किया और रातों-रात स्टार बन गए. इस फिल्म ने उस साल सबसे ज्यादा कमाई की. इस फिल्म में डायरेक्टर सूरज बड़जात्या कलाकार ढ़ूंढ़ रहे थे. अंत में उन्होने सलमान खान को कास्ट किया था. यह बड़जात्या की डेब्यू फिल्म थी. जो दोनो के लिये मील का पत्थर साबित हुई.

कभी थी रोमैंटिक हीरो की इमेज 

सलमान बाद में एक्सन हीरो बने लेकिन पहले जब उनके पास काम नहीं था तो उन्होने कई रोमैंटिक फिल्में की और वो बॉक्स ऑफिस पर हिट हुईं. जिनमें हम दिल दे चुके सनम, मैने प्यार किया, बीबी नंबर-1, और हम साथ-साथ हैं शामिल है.
उस दौर में सलमान खान की एक रोमैंटिक हीरो की इमेज बन गई. एक तरफ जहां उनकी फिल्म मैने प्यार किया और हम आपके हैं कौन बिग हिट हुई,

तो वहीं उनकी एक्शन फिल्म बागी नहीं चल पाई
उनकी खास फिल्म बागी भले ही फ्लॉप रही हो लेकिन उन्होने करियर के शुरूवाती दो दशकों में मारधाड़ और एक्शन से लबरेज फिल्में की जिनमें करने अर्जुन, वीरगति और औजार शामिल हैं.

बुरे दौर में धैर्य का जीवन 

एक दौर में सलमान का करियर हिचकोलें खाने लगा और वे अपने बुरे दौर गुजरने लगे. इस दौरान साल 2009 में बोनी कपूर ने एक्शन डायरेक्टर प्रभु देवा के साथ मिलकर साउथ की फिल्म पोकरी की हिन्दी में रीमेक वॉटेड बनाई, इस समय बोनी कपूर की भी कोई फिल्म चल नहीं रही थी. सलमान और बोनी दोनो अपने करियर के बुरे दौर से जूझ रहे थे. वॉटेड ने आते ही धमाका कर दिया.

पहले जहां बड़े सितारों की फिल्में खासकर दीवाली पर रिलीज हुआ करती थीं. वहीं वॉटेड ने ईद को गुलजार कर दिया. वॉटेड हिट हुई और इस फिल्म ने सलमान खान को बतौर एक्शन हीरो स्थापित कर दिया. यहीं से सलमान खान फिर एक्शन फिल्मों में शुमार हो गए. और इनकी अधिकतर फिल्में 100 करोड़ या इससे ज्यादा की कमाई का हिस्सा बनी.

जिनमें बॉडीगार्ड, दबंग, किक, एक था टाइगर, बजरंगी भाईजान और सुल्तान शामिल हैं. ये सभी फिल्मी ईद के मौके पर रिलीज हुईं. इस दौर में सलमान ने अपने आप में परिवर्तन किया पहले जहां वे वॉंटेड से पहले साल में चार फिल्में किया करते थे. उनमें से कुछ फ्लॉप हो जाती थी. उसके बाद से वे दो फिल्में करने लगे जो अक्सर हिट होती रहीं.

कैसे बने फैंस के जिगरी सुपरस्टार

फिल्म इंडस्ट्री में सलमान खान का कुंवारापन इनके चाहने वालों को खाए जा रहा है. सलमान की शादी का सवाल पूरे बॉलीवुड में चर्चा का अहम हिस्सा बना हुआ है. इनके फैंस अक्सर पूंछते रहते हैं कि आखिर सलमान खान शादी कब करने जा रहे हैं. तो वहीं महिला फैंस उनसे अपनी दीवानगी का इजहार भी करती रहती हैं. सलमान का अपनापन ही उनके दर्शकों का दायरा लगातार बढ़ाते जा रहा है. और इन्ही फैंस की बदौलत उन्हें बॉक्स ऑफिस पर सम्हलने और उनकी फिल्मों को अच्छी कमाई करने में मदद मिलती है.


तीनों खान आमिर, शाहरूख और सलमान के समर्थकों की तुलना करें तो आमिर खान को एक बुद्धिमान सुपरस्टार, शाहरूख को विदेशियों का सुपरस्टार, और सलमान खान को देशी दर्शकों का सुपरस्टार माना जाता है. सलमान खान को आम जनता का जनप्रिय अभिनेता कहा जाता है.

मानवीय मूल्यों के प्रति सलमान के उच्चादर्श

सलमान खान अपने से बड़ों के प्रति विशेष सम्मान रखते हैं. और समय आने पर उसकी क्रेडिट भी उन्हें देते हैं. इसकी एक बानगी देखने को मिली जब उनकी की मूवी हम आपके हैं कौन सुपरहिट हुई. मूवी सुपरहिट होने के बाद उनसे पूंछा गया कि क्या आप फिल्म इंडस्ट्री के नए सुपरस्टार हैं. तो उन्होने तपाक से जवाब दिया कि फिल्म इंडस्ट्री में एक ही सुपरस्टार हैं और वो अमिताब बच्चन जी हैं.


इसके अलावा सलमान खान असहाय गरीब व अनाथ बच्चों की मदद करने के लिये बींग ह्यूमन नाम से एक संस्था चलाते हैं. जिसमें वे करोड़ो रूपए का दान करते हैं. अपनी संस्था के माध्यम से अबतक उन्होने कई लोगों को मौत के मुंह से बाहर निकाला है.
इसके अलावा सलमान खान को परोपकारी स्टार भी कहा जाता है. अब तक उन्होने कई न्यूकमर एक्टर और एक्ट्रेस को लांच किया है. साथ ही कइयों को फिल्म इंडस्ट्री में काम भी दिलाया और पैसे की तंगी से जूज रहे कई फिल्मी कलाकारों की आर्थिक मदद भी की है. उनके इस काम से उन्हें सराहना के साथ-साथ काफी लोकप्रियता भी मिली है.

सलमान खान का विवादों से नाता

सलमान खान जितना मानवीय मूल्यों के प्रति सजग और परोपकारी हैं. उतना ही कहीं विवादित भी रहे हैं. मसलन वो कई विवादों में उलझे रहे. जिसमें साल 2002 का हिट एंड रन केस, इस मामले में उन्हें साल 2015 में बरी कर दिया गया. लेकिन काले हिरन का मामला अभी भी न्यायलय में विचाराधीन है.

इसके अलावा 26/11 के मुंबई हमलों में उन्होने एक बयान दिया था जिसे लेकर काफी विवाद हुआ था. इस बयान में सलमान खान ने पाकिस्तान के दोषी न होने की बात कही थी. हालांकि बाद में अपनी इस गलती के लिये उन्होने माफी भी मांगी थी.
साल 1993 के मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी याकूब मेनन को लेकर भी उन्होने ट्वीट किए.

 

जिसे लेकर काफी विवाद खड़ा हुआ था. इस मामले को लेकर उनके पिता और जाने-माने फिल्म लेखक सलीम खान ने खूब फटकार लगाई थी.सलमान खान के फिल्मी सितारों के साथ विवाद बात करें तो उन्होने मिसवर्ल्ड ऐश्वर्या राय के साथ प्रेम प्रसंग में ब्रेकअप के दौरान मारपीट की थी.

इश्क और शराब के नशे में बवाल 

शराब के नशे में सलमान खान आधी रात ऐश्वर्या राय के घर पहुंच गए थे और सारी रात उनके घर का दरवाजा पीटा. ऐश्वर्या राय ने रात को दरवाजा नहीं खोला और सुबह सलमान के हाथ से खून निकल रहा था. बाद में ऐश्वर्या ने इस घटना की शिकायत भी दर्ज कराई थी. इसके बाद इसी मामले में अभिनेता विवेक ओबेरॉय के साथ भी सलमान खान का खूब झगड़ा हुआ जो आज भी चर्चा का केन्द्र बन जाता है.

फिल्मी दुनिया के जानकारों का मानना है कि अगर उस दौरान ओबेरॉय इतने बड़े विवादों से न घिरे होते तो आज सुपरस्टार होते. जिगरी दोस्त शाहरूख खान के साथ भी उनकी प्रतिद्वंदिता देखने को मिली. इन दोनो के विवाद खूब चर्चा में आए. फिलहाल अब दोनों का कहना है कि वे एक दूसरे के अच्छे दोस्त हैं.

पापा को बताते हैं दोस्त

जब सलमान खान से उनके पिता मशहूर फिल्म लेखक सलीम खान के बारे में पूंछा गया कि क्या आपको उनसे डर लगता है. तो उन्होने जवाब दिया कि वो तो हमारे दोस्त जैसे हैं. उनके साथ बचपन से लेकर अबतक कुछ नहीं बदला. बचपन में उनके साथ वक्त बिताने का मौका नहीं मिला जब वे बड़े हुए तो उनके पिता के पिता बड़े बुरे दौर से गुजर रहे थे. बड़े राइटर होने के बावजूद उनके पास फिल्म इंडस्ट्री में काम नहीं था.

फिर भी उनके पिता ने इस मुश्किल दौर का एहसास उन सबके ऊपर नहीं आने दिया. सलमान ने आगे हंसते हुए कहा कि वक्त भले ही बदला है जमाना मॉडर्न हुआ है. लेकिन प्यार वही पुराना वाला ही है. वो अभी भी डबल मीनिंग जोक्स सुनाते हैं. अकेले में पापा के साथ खूब गप्पे मारते हैं. उनके पिता जी के दोस्त सलमान के दोस्त हैं. और सलमान के दोस्त उनके पिता के।

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर