Sunday, December 4, 2022

RJD का पोस्टर संग्राम: लालू को बताया ब्रह्म! तो अर्जुन बने नीतीश, मोदी-शाह को बताया अहंकारी

पटना. बिहार में इस समय पोस्टर वॉर छिड़ गया है. जब से बिहार में महागठबंधन की सरकार आई है, तब से ये सरकार सुर्ख़ियों में हैं. भले ही अंदरखाने सरकार में कुछ भी चल रहा हो लेकिन बाहर महागठबंधन सरकार 2024 के लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार को हराने की पूरी तैयारी में है. इसी बीच बिहार में दशहरा के मौके पर एक पोस्टर लगाया गया है, इस पोस्टर में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को सृष्टि निर्माता भगवान ब्रह्मा के रूप में चित्रित किया गया है और भगवान विष्णु महेश के साथ-साथ कई भगवानों के रूप में सारे विपक्षी पार्टियों के नेताओं को दिखाया गया है, मसलन राहुल गाँधी को भगवान शिव और टीआरएस को भगवान विष्णु के रूप में चित्रित किया गया है. वहीं, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अर्जुन और उनके सारथी यानी श्रीकृष्ण के रूप में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को दर्शाया गया है.

“अब 2024 में सीधे हस्तिनापुर (नई दिल्ली ) क चढ़ाई बा”

ये पोस्टर और किसी ने नहीं बल्कि आरजेडी कार्यतकर्ताओं ने ही आरजेडी कार्यालय के बाहर लगाया है. इस पोस्टर में लालू प्रसाद यादव को ब्रह्मा, विष्णु के रूप में टीआरएस और महेश के रूप में राहुल गाँधी को चित्रित किया गया है. इस पोस्टर में लालू प्रसाद यादव के दाहिने तरफ कांग्रेस नेता राहुल गाँधी और बाएं तरफ सोनिया गाँधी हैं. आरजेडी के इस पोस्टर में बिहार और देशवासियों को दीपावली, छठ और नए साल की शुभकामना दी गई है, इसके साथ ही पोस्टर में लिखा गया है कि “आ अब त 2024 में सीधे हस्तिनापुर (नई दिल्ली ) क चढ़ाई बा”, यानी अब तो सीधे 2024 की ही लड़ाई है.

इस पोस्टर का क्या मतलब

अब इस पोस्टर से ये तो साफ़ है कि आरजेडी कहना चाह रही है कि लालू यादव पूरे देश में विपक्ष को एकजुट करने में लगे हैं और इस बार महागठबंधन पूरे देश में बनेगा और मोदी सरकार को महागठबंधन कड़ी चुनौती देगा.
इस पोस्टर में जहाँ नीतीश को अर्जुन और लालू को ब्रह्म दिखाया गया है. तो वहीं पीएम मोदी और अमित शाह को अहंकारी के रूप में दर्शाया गया है.

 

लंका दहन के दौरान मंच पर गिर पड़े हनुमान, मौके पर ही मौत

उत्तरकाशी में बर्फ के तूफान में फंसे 28 लोग, उत्तराखंड सीएम पुष्कर सिंह धामी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कही ये बात

Latest news