Ratan Tata

मशहूर उद्योगपति रतन टाटा ( Ratan Tata ) का एक बयान सोशल मीडिया पर काफी तेज़ी से वायरल हो रहा है, जिसके बाद उनका बयान इंटरनेट पर छाया हुआ है. अब रतन टाटा ने इसपर सफाई देते हुए कहा है कि उन्होंने ऐसा नहीं कहा है.

जानिए किस बयान को लेकर रतन टाटा हैं चर्चा में

फेसबुक [पर रतन टाटा के एक पोस्ट का स्क्रीनशॉट काफी तेज़ी से वायरल हो रहा है. इस पोस्ट में लिखा है कि, “आधार कार्ड से शराब की बिक्री होनी चाहिए. शराब खरीदने वालों के लिए सरकारी फूड सब्सिडी बंद की जानी चाहिए, क्योंकि जिनके पास शराब खरीदने के लिए पैसे हैं, वे खाना भी जरूर खरीद सकते हैं.” बता दें कि यह एक फेक पोस्ट है जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, इस पोस्ट में रतन टाटा के नाम की स्पेलिंग ही गलत है उनके नाम में रतन टाटा की जगह Rathan tata लिखा है. अब इस पोस्ट पर रतन टाटा ने साफ़ कर दिया है कि यह उन्होंने नहीं लिखा है. जिस व्यक्ति ने रतन टाटा की एक फेक पोस्ट शेयर की है रतन टाटा ने बिना उसका नाम लिए इंस्टाग्राम पर वह पोस्ट शेयर करते हुए कैप्शन दिया, “मेरी तरफ से ऐसा कभी नहीं कहा गया. शुक्रिया.”

यह भी पढ़ें : 

Siddharth Shukla Cremation : सिद्धार्थ शुक्ला के निधन पर, सहनाज़ गिल को लेकर हुई कवरेज से भड़क उठे सेलेब्रिटीज़, देखिए क्या कहा

मुजफ्फरनगर में कल किसान महापंचायत, टिकैत बोले, हमें रोका तो बैरियर तोड़ देंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर