राजस्थान. शिक्षण नगरी के नाम से मशहूर राज्य के कोटा संभाग kota division से खाकी का घिनौना चेहरा सामने आया है। यहां एक महिला ने झालावाड़ पुलिस थाने के प्रभारी SHO विजय सिंह चौधरी पर रेप का आरोप लगाया है। इस बाबत कोटा के विज्ञाननगर थाने में केस दर्ज करवाया गया है। पीड़िता के अनुसार घटना उस समय की है जब आरोपी थाना प्रभारी विज्ञान नगर थाने में कार्यरत था।

थाना प्रभारी को किया गया लाइन हाजिर

थाना प्रभारी के खिलाफ मामला दर्ज हो जाने के बाद झालावाड़ पुलिस अधीक्षक मोनिका सेन ने विजय सिंह को लाइन हाजिर होने के आदेश दिए हैं। बता दें कि पीड़ित महिला ने इस मामले में कोटा सिटी एसपी को कंपलेंट की थी जिसके बाद पुलिस ने थानेदार के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं आरोपी थानेदार की सर्विस में अभी 2 साल बाकी हैं।

उधार पैसे की उगाही के नाम पर लूटी इज्जत

विज्ञान नगर थाने के सीआई महेश सिंह ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 43 वर्षीय पीड़िता ब्याज पर पैसे देने का काम करती है। साल 2014 में उसने किसी अन्य महिला को 7 लाख रुपए उधार दिए थे, जो वापस नहीं मिल रहे थे। थक हार कर पीड़िता फरियाद लेकर विज्ञाननगर थाने पहुंची जहां उसकी मुलाकात पुलिस उपनिरीक्षक विजय सिंह चौधरी से हो गयी। विजय सिंह ने बीच में पड़ते हुए पैसे की उगाही के लिए 26 हजार रुपये महीना की 17 किश्तें बंधवा दीं। पीड़िता के मुताबिक वह किश्त विजय सिंह द्वारा ही उसे दी जाती थी। इस दौरान उसका विजय सिंह के घर आना-जाना शुरू हो गया और एक दिन जब घर पर कोई नहीं था तो विजय सिंह ने उससे शारीरिक संबंध बना लिए।

शादी का झांसा देकर करता रहा शोषण

पीड़िता का आरोप है कि विजय सिंह शादी का झांसा देकर उससे लगातार शारीरिक शोषण करता रहा। विरोध करने पर आरोपी ने उसे 500 रुपए की एक स्टांप भी दी जिसमें पत्नी का दर्जा देने और साथ निभाने की बात लिखी गई थी। बता दें कोरोना काल में पीड़िता के पति की मौत हो गई थी। वहीं विजय सिंह ने महिला के सभी आरोपों को निराधार बताया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें :

Partner Swapping Racket Busted in Kerala : पार्टनर स्वैपिंग मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार; पुलिस ने कहा ‘1000 कपल शामिल

सुशांत सिंह राजपूत का फेसबुक अकाउंट हुआ एक्टिव, बदला प्रोफाइल फोटो

 

SHARE