पंजाब:

चंडीगढ़। राजस्थान के उदयपुर में चल रहे चिंतन शिविर के बीच कांग्रेस को पंजाब में बड़ा झटका लगा है. पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता सुनील जाखड़ ने आज पार्टी छोड़ने का ऐलान कर दिया है. जाखड़ ने आज अपने आधिकारिक फेसबुक पेज से लाइव के दौरान पार्टी छोड़ने के फैसले के बारे में सबको बताया. इस दौरान पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने कहा कि वर्तमान समय में कांग्रेस पार्टी खटिया पर है और शीर्ष नेतृत्व चापलूसों से घिरा हुआ है।

चिंतन शिविर नहीं चिंता शिविर हो

सुनील जाखड़ ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को इस वक्त चिंतन शिविर नहीं बल्कि चिंता शिविर की जरूरत है. जाखड़ ने कहा कि आज कांग्रेस को बचाने के लिए कठोर कदम उठाने की जरूरत है. देश की लगभग सभी राज्यों में पार्टी की वर्तमान स्थिति दयनीय है।

अंबिका सोनी ने किया पंजाब का अपमान

पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने आगे कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफा देने के बाद अंबिका सोनी ने ये कहकर पंजाब की जनता का अपमान किया था कि राज्य में कोई हिंदू नेता मुख्यमंत्री नहीं बनेगा. ऐसा होने पर पंजाब में आग लग जाएगी।

कहा- गुडबाय कांग्रेस

जाखड़ ने अपने फेसबुक लाइव में कहा कि अंबिका सोनीज जैसे नेताओं की मंडली आज कांग्रेस को बर्बाद कर रही है. सोनिया गांधी को इस मंडली से जल्द ही मुक्ति पानी होगी. लाइव के अंत में उन्होंने कांग्रेस को गुड लक के साथ गुडबाय भी कहा।

राजस्थान में चल रहा है चिंतन शिविर

बता दें कि राजस्थान के उदयपुर में कांग्रेस का तीन दिवसीय चिंतन शिविर चल रहा है. जिसमें पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी. पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी समेत कांग्रेस के दिग्गज नेता शामिल है।

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर