नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी PM Modi की सुरक्षा में चूक को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं। इसी बीच ये मामला सुप्रीम कोर्ट Supreme court तक पहुंच गया है। सूत्रों के मुताबिक, सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह ने इस मामले से जुड़ी हुई एक जनहित याचिका दायर की है, जिसमें कहा गया है कि इस तरह की सुरक्षा में चूक को स्वीकारा नहीं जा सकता है। साथ ही याचिकाकर्ता ने कोर्ट से मांग की है कि पंजाब सरकार को उचित निर्देश देते हुए उत्तरदायी लोगों के खिलाफ सख्त एक्शन लिया जाए। और यह सुनिश्चित किया जाए कि इस तरह की घटना भविष्य में दोबारा ना हो।

कल हो सकती है सुनवाई

सीनियर एडवोकेट मनिंदर सिंह द्वारा चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना के समक्ष इस मसले को मेंशन किया गया है। माना जा रहा है कि चीफ जस्टिस की बेंच इस मामले पर कल यानि शुक्रवार को बात कर सकती है।

हरकत में आई पंजाब सरकार

तमाम आरोप प्रत्यारोप के बाद पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने गुरुवार को एक हाई लेवल जांच कमिटी बनाई है। यह कमिटी तीन दिन में मामले की जांच कर रिपोर्ट सीएम को सौंपेगी। गौरतलब है कि पंजाब के दौरे पर गए प्रधानमंत्री मोदी की सुरक्षा में बुधवार को भारी चूक हो गई थी। कुछ प्रदर्शनकारियों ने उस सड़क मार्ग को रोक दिया था जहां से पीएम को गुजरना था। इस दौरान पीएम की काफिला करीब 20 मिनट तक एक फ्लाईओवर पर फंसा रहा था। इसके बाद पीएम बिना किसी कार्यक्रम में शामिल हुए दिल्ली लौट गए थे।

यह भी पढ़ें :

PM Security Breach: हिमाचल के सीएम जयराम ने पंजाब सरकार को लताड़ा, कहा- सत्ता मे रहने का कोई अधिकार नहीं

PM Security Breach During Visit to Punjab: पंजाब दौरे पर पीएम मोदी की सुरक्षा में बड़ी चूक, फ्लाइओवर पर 20 मिनट तक फंसे रहे

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर