Monday, August 15, 2022

महाराष्ट्र: कल होगा फ्लोर टेस्ट, राज्यपाल ने सत्र बुलाने के लिए लिखी चिट्ठी

महाराष्ट्र सियासी संकट:

मुंबई। महाराष्ट्र में जारी सियासी संग्राम कल थम जाएगा। नेता प्रतिपक्ष देंवेद्र फडणीवस की मांग के बाद आज आखिरकार राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बहुमत साबित करने के लिए कह दिया है। विधानसभा के विशेष सत्र को बुलाने को लेकर राज्यपाल ने चिट्ठी लिखी है। अब 30 जून यानि कल विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में उद्धव सरकार के भाग्य का फैसला होगा।

वीडियोग्राफी ने निर्देश

राज्यपाल ने बहुमत साबित करने के लिए बुलाए गए विधानसभा के विशेष सत्र की पूरी कार्रवाई की वीडियोंग्राफी करने के निर्देश दिए है। इसके साथ ही राज्यपाल ने शाम 5 बजे तक सत्र खत्म करने को कहा है।

कल मुंबई आएंगे बागी विधायक

ताजा मिली जानकारी के अनुसार बागी विधायक आज गोवा आने के बाद कल विधानसभा सत्र के लिए मुंबई आएंगे। बता दें कि राज्यपाल ने कल शाम बजे तक सत्र की कार्रवाई खत्म करने को कहा है। इसके साथ ही पूरे सत्र की वीडियोंग्राफी के भी निर्देश दिए है।

सुप्रीम कोर्ट जाएगी शिवसेना

शिवसेना नेता संजय राउत ने मीडिया से बात करते हुए राज्यपाल की चिट्ठी पर कहा कि ये पूरी संविधान की धज्जियां उड़ाने वाला फैसला है। राउत ने कहा कि शिवसेना इसे लेकर सुप्रीम कोर्ट जाएगी और मांग करेगी कि बागी विधायकों की सदस्यता को लेकर जब तक फैसला नहीं आ जाता है, तब तक फ्लोर टेस्ट ना हो।

शरद पवार के घर अहम बैठक

सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल पार्टी एनसीपी की की एक महत्वपूर्ण बैठक शरद पवार के घर चल रही है। इस बैठक में राज्य के गृहमंत्री दिलीप वलसे पाटिल और महाराष्ट्र एनसीपी प्रमुख जयंत पाटिल मौजूद है। बताया जा रहा है कि एनसीपी प्रमुख के घर कल विधानसभा में होने वाले शक्ति परीक्षण को लेकर चर्चा हो रही है।

शिंदे ने कामाख्या मंदिर के किए दर्शन

शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे आज गुवाहाटी में स्थित कामाख्या देवी मंदिर पहुंचे। जहां पर उनका कामाख्या मंदिर प्रबंधन समिति ने स्वागत किया। इसके बाद शिंदे और अन्य बागी विधायकों ने देवी मंदिर में पूजा अर्चना की। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए बागी शिवसेना नेता ने कहा कि मैं यहां महाराष्ट्र की शांति और खुशी के लिए प्रार्थना करने आया हूं। फ्लोर टेस्ट के लिए कल मुंबई जाऊंगा और सभी प्रक्रिया का पालन करूंगा।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news