Thursday, August 11, 2022

महाराष्ट्र: शिवसेना के 15 बागी विधायकों को केंद्र सरकार ने दी Y+ सुरक्षा

महाराष्ट्र:

मुंबई। महाराष्ट्र में सत्ताधारी पार्टी शिवसेना के अंदर सियासी घमासान थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है। केंद्र सरकार ने बागी विधायकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उनको वाई प्लस सुरक्षा देने का फैसला किया है। ये सुरक्षा शिवसैनिक की बढ़ी उग्रता को देखते हुए दी गई है।

बागियों को निशाना बना रहे है शिवसैनिक

बता दें कि एकनाथ शिंदे के साथ 40 से अधिक विधायकों के बागी होने के बाद अब महाविकास अघाड़ी सरकार संकट में नजर आ रही है। पार्टी में बगावत के बाद अब शिवसेना के दोनों गुट(एकनाथ-उद्धव) महाराष्ट्र में आमने-सामने है। उद्धव गुट के शिवसैनिक लगातार बागी विधायकों के घर और दफ्तर को निशाना बना रहे है। असम के गुवाहाटी में डेरा जमाए बागी विधायक इससे पहले अपने परिवार को सुरक्षा को चिंता जाहिर कर चुके है।

चौपाटी में आना ही होगा- संजय राउत

शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्होंने बागी विधायकों को धमकी देने के अंदाज में लिखा है कब तक छिपोगे गुवाहाटी में आना तो पड़ेगा चौपाटी में।

MVA के अजगर से मुक्त करा रहा हूं- शिंदे

शुक्रवार को वडोदरा और दिल्ली का चक्कर लगाने के बाद शनिवार सुबह एकनाथ शिंदे गुवाहाटी पहुंचे। शनिवार की शाम को एकनाथ ने शिवसैनिकों को संबोधित करते हुए एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में उन्होंने कहा कि आप (शिवसैनिक) अच्छी तरह से समझें, MVA के खेल को पहचानिए। मैं आपको (शिवसेना और शिवसैनिकों को) एमवीए के अजगर के चंगुल से मुक्त कराने के लिए संघर्ष कर रहा हूं। मेरी यह लड़ाई आप सभी के लाभ के लिए ही है। बता दें, इस समय एकनाथ शिंदे असम के गुवाहाटी में अपना डेरा जमाए हुए हैं. जहां से वह लगातार महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार पर प्रहार कर रहे हैं।

विधायकों ने बढ़ाई होटल की बुकिंग

गौरतलब है कि एकनाथ शिंदे गुट के विधायकों का गुवाहाटी में लंबे समय तक के लिए रुकने का इरादा लगता है। जहां अब गुवाहाटी के रेजिडेंट ब्लू होटल में रुके विधायकों ने अपनी होटल बुकिंग को और भी बढ़ा दिया है। पहले ये बुकिंग केवल 7 दिनों के लिए की गई थी, लेकिन अब इसे दो दिन के लिए और बढ़ा दिया गया है। जहां अब बागी विधायक मुंबई का रूख 28 नहीं बल्कि 30 जून को कर सकते हैं।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news