Thursday, February 2, 2023
spot_img

लखनऊ बिल्डिंग हादसा: मलबे में दबे 15 लोगों को निकाला गया, अभी भी पांच के फंसे होने की आशंका

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मंगलवार में रात बड़ा हादसा हो गया। यहां वजीर हसन रोड पर बनी एक 5 मंजिला इमारत भरभराकर गिर गई। बिल्डिंग में करीब 15 परिवार रहते थे। इमारत गिरने के बाद आनन-फानन में पुलिस, प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंची। पिछले 12 घंटे से NDRF और SDRF की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई है। सेना की भी एक टीम रेसक्यू में जुटी है। इमारत के मलबे में फंसे 15 लोगों को अब तक निकाला जा चुका है। बताया जा रहा है कि अभी भी 5 लोग अंदर फंसे है।

भूकंप के कुछ घंटो बाद ही गिरी बिल्डिंग

स्थानीय लोगों ने बताया कि मंगलवार दोपहर को आए भूकंप के कुछ घंटों के बाद ही ये इमारत भरभराकर गिर गई। पुलिस के मुताबिक, मलबे में फंसे हुए लोगों से लगातार बातचीत जारी है। उन्हें ऑक्सीजन की सप्लाई की जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह घटना पर अपनी नजर बनाए हुए हैं। इससे पहले उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक, नगर विकास मंत्री एके शर्मा, मुख्यमंत्री योगी के सूचना सलाहकार अवनीश अवस्थी घटना स्थल पर पहुंचे।

इमारत काटकर लोगों को निकाला जा रहा

राहत-बचाव कार्य में जुटे एक अधिकारी ने बताया कि बिल्डिंग काटकर लोगों को बाहर निकाला जा रहा है, इसी वजह से रेस्क्यू में काफी देरी हो रही है। उन्होंने कहा कि अभी भी कुछ लोग अंदर फंसे हुए हैं, उनसे संपर्क किया जा रहा है। इमारत को ड्रिल करके ऑक्सीजन पहुंचाई जा रही है। बता दें कि यह बिल्डिंग सपा सरकार में मंत्री रहे शाहिद मंसूर के बेटे नवाजिश की है। बिल्डिंग में उनका भी एक फ्लैट है। पुलिस ने नवाजिश मंसूर को हिरासत में ले लिया है। डीजीपी यूपी डीएस चौहान ने बताया कि हादसे के जिम्मेदार किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

दिल्ली का अगला मेयर, गुजरात चुनाव और फ्री रेवड़ी, मनीष सिसोदिया ने बताए सारे राज!

India News Manch पर बोले मनोज तिवारी ‘रिंकिया के पापा’ पर डांस करना सबका अधिकार

Latest news