Piyush Jain News:

कानपुर. इत्र कारोबारी पीयूष जैन Piyush jain की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही हैं। फिलहाल न्यायिक हिरासत मे बंद पीयूष कानूनी शिकंजे के साथ-साथ राजस्व खुफिया निदेशालय (DRI) की जांच के दायरे में आ गए हैं। दरअसल रेड के दौरान कारोबारी के घर से करीब 200 करोड़ कैश, 65 किलो सोना और 250 किलो चांदी मिली थी। रेड में बरामद कई किलो सोने के बिस्कुटों और ईंटो के विदेशी होने की पुष्टि हुई है। इन पर दुबई और ऑस्ट्रेलिया की मुहर लगी है। DRI ने कार्रवाई करते हुए सारा सोना अपने कब्जे में लिया है और मामले की जांच शुरु कर दी है।

बरामद सोने पर दुबई की मोहर

पीयूष जैन के कानपुर और कन्नौज के ठिकानों पर पड़ी रेड में करीब 250 करोड़ की कुल रिकवरी हुई है। अभी भी उनके ठिकानों को खंगालने और सील करने की प्रक्रिया चलाई जा रही है। रेड में मिले सोने के भंडार ने आयकर विभाग और पुलिस फोर्स को सबसे ज्यादा चौंकाया है। बरामाद सोना ज्यादातर बिस्कुट के रुप में है और इन पर इंटरनैशनल प्रीशस मेटल रिफाइनर्स की मुहर लगी है। इस कंपनी का हेड ऑफिस अबूधाबी में है जबकि इसकी कई शाखाएं शारजाह से लेकर दुबई तक फैली हुई हैं।

डीआरआई को तस्करी का संदेह

पीयूष जैन के पास मिले इस विदेशी सोने की खरीद के बिल एवं चुकाई गई कस्टम ड्यूटी की कोई पर्ची नहीं है। डीआरआई के अनुसार कारोबारी के पास से जो सोना बरामद हुआ है वह सरकारी चैनलों द्वारा भारत नहीं आ सकता। अवश्य की इसकी तस्करी की गई होगी। डीआरआई का मुख्य काम ही तस्करी को रोकना है इसलिए एजेंसी पता करेगी कि कहीं इस अवैध सोने के तार अंतरराष्ट्रीय तस्कर समूहों से तो नहीं जुड़े हैं। यदि डीआरआई की चांज मे यह साबित हो जाता है तो इस मामले में सजा के बेहद सख्त प्रावधान हैं।

यह भी पढ़ें :

Film on Kanpur Raid: ‘समाजवादी इत्र’ वाले पीयूष जैन पर बनेगी फिल्म, प्रोड्यूसर कुमार मंगत ने किया Raid 2 का ऐलान

How much Cash was Found from Piyush’s House : पीयूष के घर से कितना कैश मिला, जानें डीजीजीआई अफसर ने क्या कहा

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर