UP Kannauj : यूपी कन्नौज

Kanpur कानपुर के जाने माने इत्र व्यापारी पीयूष जैन (Piyush Jain) के कन्नौज स्थित ठिकानों पर इनकम टैक्स और जीएसटी की छापेमारी लगातार जारी है. खबरों के मुताबिक “समाजवादी इत्र” Samajwadi Itr बनाने वाले धन कुबेर के कन्नौज स्थित घर से नोटों की गड्डियों से भरी प्लास्टिक की आठ बोरियां बरामद हुई हैं. इसके अलावा सोने के बिस्किट और चांदी की सिल्लियां भी बरामद हुई है.

पीयूष जैन के यहां शनिवार से ही नोट गिनने वाली मशीनें लगी हैं. जिनसे अब तक 257 करोड़ रूपए का कैश गिनकर बरामद किया जा चुका है. अधिकारी पीयूष जैन के बेडरूम, बाथरूम, किचन, आलमारी और अन्य गोपनीय लॉकर्स व चप्पे-चप्पे की तलाशी कर रहे हैं. जहां से अब तक 15 किलो सोना और 50 किलो चांदी बरामद होने के बावजूद भी नोटों की गिनती और तलाशी अभियान जारी है.

गौरतलब है,कि पहले पीयूष जैन के कानपुर वाले घर से भी बरामद हुए कैश की तस्वीरें खूब वायरल हुई थी और कन्नौज वाले घर ने तो मौज ही कर दी यहां से तो नोटो के अलावा भारी मात्रा में सोना चांदी भी बरामद हो रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक जांच अधिकारियों को पैसे और सोना चांदी के अलावा कुछ डायरी और बिल भी प्राप्त हुए हैं. इस डायरी और बिल में कई कंपनियों से माल खरीदने व बेचने के लेनदेन का जिक्र है. पीयूष जैन के घर छापेमारी की इस घटना से अन्य व्यापारियों में भी खलबली मच गई है.

पीयूष जैन के बारे में

 

पीयूष जैन यूपी के कई बड़े अमीरों में शुमार हैं. वह चालीस से भी ज्यादा कम्पनियों के मालिक हैं. कन्नौज में पीयूष के पास परफ्यूम फैक्ट्री, कोल्ड स्टोरेज, और पेट्रोलपंप है. इसके अलावा इनकी दो कम्पनियां मिडिल ईस्ट में भी हैं. मुबंई में पीयूष का आलीशान बंग्ला और इत्र के कारोबार का हेडऑफिस है. ये मुंबई से ही अपना सारा बिज़नेस हैंडल करते हैं. इनके इत्र विदेशों में भी खूब पसन्द किये जाते हैं. कुछ दिन पहले ही इन्होने समाजवादी पार्टी के नाम से अपना एक नया इत्र लांच किया था और उसे निःशुल्क बांटा गया था.

कार्रवाई से सियासी हलचल

 चुनावी माहौल में राजनीतिक गलियारों के अन्दर पीयूष के घर और ठिकानों पर हो रही छापेमारी को बदले की कार्रवाई बताया जा रहा है. समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव ने साफ कहा कि बीजेपी में खलबली मची हुई है जिस वजह से कॉग्रेस की तरह छापेमारी की जा रही है. उन्होने अपने सभी नेताओं और चाहने वालों से कहा डरें नहीं ये सरकार अब जाने वाली है. जिसके डर से ये इस तरह की कार्रवाई कर रहे हैं. वहीं इस घटना को लेकर एक पत्रकार ने बीजेपी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अगर आपके यहां सब दूध के धुले नहीं हैं तो अपने यहां भी लोगों पर ऐसी कार्रवाई कर दीजिए भले ही उन्हें बाद में छोड़ दीजिएगा ताकि लोगों में निष्पक्ष होने का भ्रम बना रहे.

यह भी पढ़ेंः-

Coelacanth Fish: जानें100 साल तक जिंदा रहने वाली मछली Coelacanth के बारे में,पांच साल तक गर्भ धारण करने के बाद देती है जन्म

Corona Male fertility कोरोना से प्रभावित हो रही पुरुषों की प्रजनन क्षमता

 

SHARE