South Africa : साउथ अफ्रीका

Johannesburg,जोहान्सबर्ग में चल रहे दूसरे टेस्ट मैच से पहले भारत के विस्फोटक बल्लेबाज और पूर्व कप्तान विराट कोहली Virat Kohli की स्लिप डिस्क बीमारी ने उनकी ही नहीं भारत के लिए भी मुश्किलें खड़ी कर दी हैं। यूं तो विराट की गिनती दुनिया भर के टॉप फिटनेस खिलाड़ियों में मुख्य खिलाड़ियों में आती है लेकिन साल कुछ सालों 2016 में हुए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच के दौरान कंधे की चोट के बाद मानो किसी की उन्हें नज़र लग गई हो

साल 2018 में गर्दन और पीठ में ऐंठन

Herniated disc का मतलब है पीठ की मांसपेशियों का अचानक से अकड़ जाना और दर्द होना या यूं कहे पीठ में ऐठन हो जाना, ये तब होता है, जब मांसपेशियों के जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल या किसी चोट के वजह से दर्द का उभर आना। साल 2018 में विराट कोहली Virat Kohli पहले इंग्लैंड की काउंटी लीग मैच नहीं खेल पाए थे तब वे सर्रे की और से काउंटी क्रिकेट खेल रहे थे। उसके बाद 2018 में ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पीठ ने ऐठन होने से उन्हें सर्जरी करवाने जैसी नौबत नहीं आई थी हालांकि डॉक्टर के मुताबिक अगर विराट कोहली की सर्जरी होती है तो उन्हें अपने खेल से 4 महीने दूर रहना पड़ सकता है।

भारत के लिए कोहली की समस्या चिंताजनक

पूर्व कप्तान विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दौरें पर है। दूसरे टेस्ट मैच शुरू होने से पहले पीठ के ऊपरी हिस्से में ऐंठन के चलते वह नहीं खेल पा रहे हैं, जिसके बाद हालात को देखते हुए भारत को अपना टेस्ट कप्तान केएल राहुल को बनाना पड़ा। वैसे तो कोहली के साथ फिटनेस की दिक्कत नहीं रही लेकिन बहुत कम मौकों पर वे चोट या इस तरह की किसी वजह से मैच नहीं खेल पाए थे। लेकिन पीठ के ऊपरी हिस्से में ऐंठन उनके लिए ही नही बल्कि टीम के लिए भी चिंताजनक हो सकती है। डर ये है, कि यह चोट “स्लिप डिस्क के दोबारा” उभरने की एक वजह भी हो सकती है। एक बार फिर कोहली फिर से उसी तरह की ऐंठन से परेशान हैं।

केप टाउन में कोहली के खेलने पर सस्पेंस

भारत के पूर्व कप्तान और बल्लेबाज़ कोहली क्या साउथ अफ्रीका के खिलाफ केप टाउन में खेल पाएंगे या नहीं? इस सवाल से ना केवल टीम बल्कि पूरे देश के खेल प्रेमी परेशान हैं। भारत फिलहाल 1-0 से सीरीज में आगे चल रहा है।

यह भी पढ़ें :

PM Modi in North East states : पीएम मोदी का पूर्वोत्तर राज्यों को करोड़ों की सौगात, करेंगे 43 परियोजनाओं का उद्घाटन

Weather North India पहाड़ों में भारी बर्फबारी व बारिश की संभावना, तेज हवाओं का भी अनुमान

 

SHARE