July 18, 2024
  • होम
  • IND vs AUS World Cup Final: इन पांच वजहों से विश्व कप फाइनल नहीं जीत पाई टीम इंडिया

IND vs AUS World Cup Final: इन पांच वजहों से विश्व कप फाइनल नहीं जीत पाई टीम इंडिया

  • WRITTEN BY: Vaibhav Mishra
  • LAST UPDATED : November 20, 2023, 10:30 am IST

अहमदाबाद/नई दिल्ली: वनडे विश्व कप के फाइनल मुकाबले में रविवार को मेजबान भारत को ऑस्ट्रेलिया से शिकस्त झेलनी पड़ी. अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टीम इंडिया को 6 विकेट से हरा दिया. भारतीय टीम ने जिस दबदबे के साथ पूरे टूर्नामेंट में प्रदर्शन किया था, फाइनल मुकाबले में उसे बरकरार नहीं रख सकी.

आसानी से जीता ऑस्ट्रेलिया

फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने टॉस जीतकर भारत को पहले बल्लेबाजी करने का न्योता दिया. इसके बाद भारतीय टीम ने 50 ओवर में 10 विकेट खोकर 240 रन बनाए. इसके बाद 241 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 43 ओवर में 4 विकेट के नुकसान के साथ मुकाबले को अपने नाम कर लिया. ऑस्ट्रेलिया की ओर से ट्रैविस हेड ने 120 गेंद पर 137 रन की शतकीय पारी खेली. इसके अलावा मार्नस लाबुशेन ने 110 गेंद में 58 रन की नाबाद पारी खेली.

आइए जानते हैं कि भारतीय टीम की हार के 5 बड़े कारण क्या थे…

1- रोहित का गलत शॉट खेलना

टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा ने फाइनल मुकाबले में उसी तरह से बल्लेबाजी की जैसे वो बीते मैचों से करते आ रहे थे. वे एक गलत शॉट खेलकर आउट हुए. पावर-प्ले के 9 ओवर में टीम इंडिया के स्कोर 66/1 था. इसके बाद ग्लेन मैक्सवेल 10वां ओवर लेकर आए. रोहित ने मैक्सवेल की पहली तीन गेंद पर 10 रन जुटा लिए. इसके बाद भी उन्होंने चौथी गेंद पर बड़ा शॉट खेला और कैच आउट हो गए. रोहित के विकेट के बाद भारतीय पारी ने अपना मोमेंटम खो दिया.

2- गलत वक्त पर आउट हुए विराट

रोहित शर्मा के आउट होने के बाद श्रेयस अय्यर बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर आए. अय्यर भी महज 4 रन बनाकर आउट हो गए. इसके बाद केएल राहुल मैदान पर आए. विराट और राहुल ने मिलकर पारी को संभाला. दोनों के बीच 67 रन की साझेदारी हुई. दोनों बल्लेबाज टीम को बड़े लक्ष्य की ओर ले जा रहे थे कि तभी विराट कोहली पैट कमिंस की बॉल पर प्लेड-ऑन आउट हो गए. कोहली के विकेट के बाद भारतीय पारी अटक गई और फिर कोई भी बल्लेबाज खुलकर नहीं खेल सका.

3- राहुल की बेहद धीमी बल्लेबाजी

विराट के विकेट के बाद केएल राहुल काफी दबाव में बल्लेबाजी करने लगे. राहुल अपना विकेट बचाने के चक्कर में काफी धीमा खेलने लगे. पारी के बीच के ओवर्स में 97 गेंद तक कोई भी बाउंड्री नहीं लगी. केएल राहुल ने 107 गेंद पर 61.68 के स्ट्राइक रेट से 66 रन की पारी खेली. इस दौरान वे सिर्फ एक चौका लगा सके.

4- तेज गेंदबाजों का अटैक कम किया

241 रन के छोटे से लक्ष्य को बचाने उतरे टीम इंडिया के गेंदबाद पावरप्ले में काफी हावी रहे. शमी अहमद ने अपने पहले ही ओवर में डेविड वॉर्नर का विकेट लिया. इसके बाद जसप्रीत बुमराह ने मिचेल मार्श और स्टीव स्मिथ को आउट कर ऑस्ट्रेलिया को तगड़ा झटका दिया. पावरप्ले में ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 60/3 था. यहां से कप्तान रोहित ने तेज गेंदबाजों का अटैक कम कर रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव के हाथ में गेंद थमाई. इस दौरान ट्रैविस हेड और मार्नस लाबुशेन को आंख जमाने का मौका मिल गया. दोनों बल्लेबाजों ने शतकीय साझेदारी कर मैच को ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में कर दिया.

5- ओस का गिरना भी बनी बड़ी वजह

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया की पारी के 20 ओवर के बाद ओस का गिरना शुरू हुआ. जिससे गेंद गीली हुई और टीम इंडिया के स्पिनर्स बेअसर साबित होने लगे. रविंद्र जडेजा और कुलदीप यादव इस दौरान कोई विकेट नहीं निकाल पाए. भारतीय टीम के तेज गेंदबाजों को भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी आसानी से खेलने लगे.

 

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन