हनुमान चालीसा विवाद:

मुंबई।  हनुमान चालीसा विवाद को लेकर पिछले 12 दिन से जेल में बंद अमरावती से निर्दलीय लोकसभा सांसद नवनीत राणा की आज भायखला जेल से रिहाई हो गई. फिलहाल अभी उनके पति रवि राणा की रिहाई नहीं हुई है।

चेकअप के लिए जा रही लीलावती अस्पताल

बता दें कि जेल से रिहा होने के बाद नवनीत राणा मुंबई के लीलावती अस्पताल जा रही है. जहां पर उनका मेडिकल चेकअप होगा. जानकारी के अनुसार जेल में नवनीत राणा की तबियत बिगड़ी गई. इस दौरान उन्होंने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को पत्र लिखकर मुंबई पुलिस पर अमानवीय व्यवहार करने का आरोप लगाया था।

मुम्बई सेशन्स कोर्ट ने शर्तो पर दी जमानत

नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा को बुधवार को मुंबई सेशन्स कोर्ट ने शर्तों के साथ जमानत दे दी थी. जिसमें कोर्ट ने कहा था कि जांच अधिकारी जब भी दोनों को पूछताछ के लिए बुलाए, उन्हें पुलिस स्टेशन आना होगा. इसके लिए उन्हें 24 घंटे पहले फोन पर या ई-मेल पर जानकारी दी जाएगी. इसके साथ ही कोर्ट ने निर्देश दिया कि वो किसी भी गवाह या सबूत के साथ छेड़छाड़ नहीं करेंगे. जिससे जांच में किसी भी तरह की बाधा पैदा हो।

मीडिया से बात करने पर रोक

कोर्ट ने शर्त में आगे कहा कि नवनीत और रवि राणा इस केस को लेकर मीडिया में किसी भी तरह का बयान जारी नहीं कर सकते हैं. ऐसा करने पर कोर्ट की शर्त का उल्लंघन होगा और जमानत में बाहर रहने के दौरान ऐसा अपराध नहीं दोहराएंगे यानी कि वो हनुमान चालीसा पढ़ने या फिर इसी तरह का कोई और बयान नहीं दे सकते. मुम्बई सेशन कोर्ट ने दोनों को साफ तौर पर बेल देते हुए कहा हैं कि यदि वे दोनों किसी भी शर्त का उलंघन करते है तो कोर्ट उनकी जमानत याचिका को रद्द कर देगा।

यह भी पढ़ें:

Delhi-NCR में बढ़े कोरोना के केस, अध्यापक-छात्र सब कोरोना की चपेट में, कहीं ये चौथी लहर का संकेत तो नहीं

IPL 2022 Playoff Matches: ईडन गार्डन्स में हो सकते हैं आईपीएल 2022 के प्लेऑफ मुकाबले, अहमदाबाद में होगा फाइनल

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर