Jammu & Kashmir : जम्मू और कश्मीर

Kashmir , जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्लाह ( ex-CM Umar Abdullah ) ने सुबह सुबह अपने ट्विटर से हंगामा खड़ा कर रखा है जब उन्होंने ट्वीट करके साझा किया, कि, उनके घर के दोनो दरवाजों पर प्रशासन ने ट्रक खड़े कर दिए हैं जिस से उनके पिता ओर मेरी बहन आपस में मिल भी नही सकते। याद रहे , उमर अब्दुल्लाह गुपकर गठबंधन में शामिल पार्टियों में से एक हैं और 3 दिन बाद परिसीमन आयोग के खिलाफ एक मार्च निकालने वाले थे।

वैष्‍णो देवी मंदिर हादसे में मारे गए मृतकों पर जताया दुख

नेशनल कॉन्फ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्‍दुल्‍ला ने देर रात हुए वैष्णो देवी मंदिर में हुई भगदड़ दुर्घटना पर गहरा दुख जाहिर किया. उन्‍होंने अपने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए कहा, कि, “भगदड़ में मारे गए लोगों और उनके परिजनों के साथ उनके प्रति मेरी संवेदनाएं और सभी घायलों के जल्द ही पूर्ण स्वस्थ होने की कामना करता हूं, बताते चलें, कि, इस दुर्घटना में 12 लोगों की मौत हो गई है, और 26 लोग घायल हो गए हैं, फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी रखने के साथ साथ स्थिति सामान्य करने के बाद यात्रा को बहाल कर दी गया है।

पुलिस ने किया शांतिपूर्ण प्रदर्शन को भंग

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अपने घर के गेटों के बाहर प्रशासन द्वारा किए गए पुलिस के खड़े ट्रकों पर ट्वीट करते हुए लिखा, कि, सुबह और 2022 के आगमन का स्वागत, प्रशासन और लोकतांत्रिक देश में अब लोकतांत्रिक गतिविधियों से डर कर हमें अवैध रूप से नज़रबंद किया गया। फिर भी हम गुपकर गठबंधन के नेताओं के पास इतनी हिम्मत है की हम दुनिया से ये कह सके, कि, हमारा देश दुनिया का सबसे बड़ा और हिम्मत वाला लोकतांत्रिक देश है।

यह भी पढ़ें:

Chris Gayle : क्रिस गेल को नही दिया नए साल पर खेलने का मौका, वेस्ट इंडीज बोर्ड ने दी सफाई

Stampede in Mata Vaishno Devi Bhawan जांच के लिए उच्च स्तरीय कमेटी गठित, मृतकों के परिजनों को 12 लाख घायलों को ढाई लाख देने का एलान

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर