Delhi : दिल्ली

Germany police arrest men : लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट को लेकर देश की न्याय और कानून पालिका ही नही बल्कि देश की सरकार भी अपनी कार्यवाई करने में लगी हुई है जिसके चलते जर्मनी की स्थानीय पुलिस ने SFJ (सिख फॉर जस्टिस ) के आतंकी जसविंदर सिंह मुल्तानी (Jaswinder Singh Multani) ) को मध्य जर्मनी के एरफर्ट शहर से पकड़ा ।

बताते चले की गिरफ्तार किए गए जसविंदर सिंह का पिछले हफ्ते भारत में लुधियाना की एक अदालत में हुए विस्फोट में शामिल होने की आशंका थी। साथ ही दिल्ली और मुंबई को निशाना बनाने के आरोप में भी गिरफ्तार किया गया. विस्फोट मामले से संबंधी जानकारी रखने वाले लोगों ने इस गिरफ्तारी की जानकारी दी ।

केंद्र सरकार की गुहार के बाद हुई कार्यवाई

जर्मनी में भारत के राजनायिकों ने भारत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार के कहने पर जर्मनी सरकार से और वहां की न्याय एवं कानून पालिका से दें बॉन (जर्मनी का शहर) में खालिस्तान समर्थक कट्टरपंथियों को गिरफ्तार करने के लिए जर्मन अधिकारियों से अनुरोध किया था, जिसका संबंध भारत में हुए लुधियाना ब्लास्ट ओर पाकिस्तान की आतंकी गतिविधियों से हैं साथ ही सीमा पार से पंजाब में गैर कानूनी तौर पर हथियारों और गोला-बारूद की तस्करी में शामिल भी हैं. अपने नाम को ना बताने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया कि जसविंदर पंजाब के होशियारपुर का रहने वाला। और SFJ के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू (Gurpatwant Singh Pannu) के बहुत करीबी सहयोगी में से रहा है साथ ही अलगाववादी गतिविधियों में शामिल है.

भारत में ओर धमाके की थी योजनाएं

जर्मनी ने पकड़े गए SFJ आतंकी जसविंदर ओर उसके संगठन की भारत के पंजाब में धमाके करने की ओर योजनाएं थी बताते चले। कि, SFJ संगठन का मुखिया गुरपतवंत सिंह पन्नू और जसविंदर पंजाब में ऐसे ओर विस्फोट करके धमाके करना चाहते थे क्योंकि भारत के मोजूदा समय में कई राज्य में साल 2022 के विधानसभा चुनाव ( Assembly Elections ) होने वाले हैं.

जिस वजह से सुरक्षा कड़ी कर दीं गई हैं ये कदम ना केवल विधानसभा चुनाव को देख कर लिया गया बल्कि लुधियाना ब्लास्ट के मद्देनजर भी लिया गया। ज्ञात हो तो लुधियाना ब्लास्ट में आरोपी बड़ा धमाका करने के लिए प्लान कर रहा था जहां धमाका हो गया था और आरोपी के साथ एक अन्य की मौत हो गई थी और कुछ लोग घायल हो गए थे।

पंजाब में हुई चार कट्टरपंथियों की गिरफ्तारी

पंजाब पुलिस ने तरनतारन, अमृतसर और फिरोजपुर से चार कट्टरपंथियों की गिरफ्तारी की है. जिनके पास से 8 पिस्तौल और कुछ गोलाबारूद बरामद हुआ. गिरफ्तार हुए लोगों ने बताया कि, उन्होंने पंजाब में होने वाली कट्टरपंथी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए ये अवैध हथियार खरीदे थे। इसके अलावा पंजाब पुलिस ने जीवन सिंह नाम के ओर एक आतंकी को गिरफ्तार किया है, उसे जर्मनी के खालिस्तान समर्थक नेता जसविंदर ने सोशल मीडिया पर मुख्य किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल को मारने के लिए कट्टरपंथी बनाया था.

पाकिस्तान से जुड़े हैं तार

पंजाब पुलिस ने दावा किया है पकड़े गए कट्टरपंथियों के पाकिस्तान से तार जुड़े हैं
पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जसविंदर मुल्तानी ने हाल ही में पाकिस्तान के ही गुर्गों से सीमा पार से अवैध हथियार लाने में मदद की थी जिसके बाद वो भारत की सुरक्षा एजेंसियों के रडार पर था.

यह भी पढ़ें :-

Bihar: कहीं धूं-धूं कर जली स्लीपर बोगी, कहीं लाठीचार्ज के साथ दागे गए आंसू गैस के गोले, महिलाओं और बच्चों को भी नहीं बख्शा

Politics Counterattack हिंदुओं को सत्ता में लाओ वाले बयान राहुल पर बरसे ओवैसी

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर