मुंडका अग्निकांड:

नई दिल्ली।  दिल्ली के मुंडका इलाके में मेट्रो स्टेशन के पिलर नंबर 544 के पास बनी एक 3 मंजिला कमर्शियल बिल्डिंग में कल शाम भीषण आग लग गई. जिसकी चपेट में आने से 27 लोगों की मौत हो गई और 12 लोग घायल हो गए है. अभी फिलहाल एनडीआरएफ का राहत-बचाव अभियान जारी है और आशंका जताई जा रही है कि मृतकों का आंकड़ा अभी और बढ़ सकता है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व कांग्रेस नेता राहुल गांधी घटना पर दुख जताया है और परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

30 दमकल गाड़ियों ने बुझाई आग

मुंडका पुलिस स्टेशन में शुक्रवार शाम 04.45 बजे आग को लेकर एक पीसीआर कॉल आई. जिसके बाद स्थानीय पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और बचाव कार्य में जुट गई. इमारत में फंसे लोगों को खिड़की तोड़कर किसी तरह बाहर निकाला गया. जिसके बाद घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. दिल्ली बाहरी जिले के डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि इस हादसे में 27 लोगों की मौत हो चुकी है और 12 लोग घायल हुए हैं. करीब 30 दमकल की गाड़ियों ने आग पर काबू पा लिया है। 

शवों की शिनाख्त मुश्किल

घटना के बाद सबसे बड़ी चुनौती मृतकों के पहचान की है. शव इतनी बुरी तरह जले हैं कि पहचानना मुश्किल हो रहा है.डीसीपी समीर शर्मा ने बताया कि जो शव मिले हैं वो ऐसी स्थिति में है कि उनकी शिनाख्त करना मुश्किल है. उन्होंने कहा कि इसमें फोरेंसिक टीम मदद करेगी और जो लोग लापता है उसे मैच कराएंगे ताकि शवों की शिनाख्त हो सके. डीसीपी ने बताया कि लापता लोगों की लिस्ट जल्द ही तैयार कर ली जाएगी।

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर