दिल्ली:

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा और हनुमान चालीसा को लेकर उद्धव सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने वाली नवनीत राणा ने आज दिल्ली के कनॉट प्लेस में स्थित भगवान हनुमान के प्राचीन मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ किया. इस दौरान उनके साथ महाराष्ट्र के विधायक पति रवि राणा भी मौजूद रहे।

संकट दूर करने के लिए किया पाठ

हनुमान चालीसा पाठ के बाद सांसद नवनीत राणा ने कहा कि उन्होंने महाराष्ट्र से संकट को दूर करने के लिए हनुमान चालीसा को पढ़ा है. बता दें कि मंदिर पहुंचने से पहले नवनीत ने पद यात्रा भी की थी।

हनुमान चालीसा पाठ को लेकर हुई थी गिरफ्तारी

बता दें कि लोकसभा सांसद नवनीत राणा और उनके पति रवि राणा को 23 अप्रैल को मुंबई पुलिस ने हिरासत में लिया था. राणा दंपति ने ऐलान किया था कि वो महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री के सामने हनुमान चालीसा का पढ़ेंगे. इसके बाद 5 मई को 13 दिन जेल में गुजारने के बाद उन्हें रिहाई मिली थी।

ठाकरे सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

गौरतलब है कि अस्पताल से बाहर आने के बाद नवनीत राणा ने मीडिया से बात की थी. इस बातचीत में उन्होंने उद्धव सरकार पर जमकर प्रहार किया था. उन्होंने कहा, “मैंने ऐसा क्या किया जिसके लिए मुझे सज़ा दी गई? यदि हनुमान चालीसा और राम नाम लेना अपराध है, तो मैं 14 साल तक जेल में रह सकती हूं. नवनीत राणा ने आगे कहा, “मैं 14 दिन में ही हार नहीं मानने वाली. मैं पीछे नहीं हटूंगी. लोगों ने बहुत क्रूर कार्रवाइयां देखी हैं. महिला और सांसद होने के चलते मुझे जेल में प्रताड़ित किया गया. उद्धव ठाकरे सरकार ने अपनी ताक़त का दुरुपयोग किया है।

यह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर