नई दिल्ली. कोरोना वायरस Corona virus और ओमिक्रॉन के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए केंद्र सरकार ने देश के सभी फ्रंटलाइन और हैल्थ केयर वर्कर्स को बूस्टर डोज लगाने का फैसला लिया था। इसी क्रम में दस जनवरी से देश में एहतियातन डोज Precaution dose लगाने का अभियान शुरू हो रहा है। कल यानि सोमवार से टीकाकरण केंद्रों पर यह खुराक उपलब्ध होगी। हैल्थ केयर व फ्रंटलाइन वर्कर्स के अलावा 60 वर्ष से अधिक के बुजुर्गों को भी डॉक्टरों की सलाह पर बूस्टर डोज लगेगी। बता दें की 3 जनवरी से देशभर में 15-18 साल के किशोरों को कोरोना के टीके लगने शुरु हो चुके हैं।

फोन पर आने लगे मैसेज

एहतियातन डोज लेने के लिए लाभार्थियों को दोबारा कोविन वेबसाइट पर पंजीकरण कराने की जरूरत नहीं है। टीकाकरण केंद्र पर पहुंचने के बाद अपना मोबाइल नंबर बताते ही उनका पंजीकरण अपडेट हो जाएगा और तीसरी खुराक भी लगा दी जाएगी। इसके लिए लोगों के फोन पर मैसेज आने लगे है। हालांकि एहतियातन खुराक उसी पात्र व्यक्ति को मिलेगी, जो पहले की दोनों डोज ले चुके हैं।

नौ माह का अंतराल जरुरी

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार तीसरी खुराक तभी ली जा सकती है जब दूसरी खुराक लेने के समय में नौ माह यानि 39 सप्ताह पूरे हो चुके हों। यानि अगर किसी व्यक्ति ने मार्च 2021 तक वैक्सीन की दूसरी खुराक हासिल की है वह 10 जनवरी 2022 को एहतियाती खुराक प्राप्त कर सकता है। लेकिन जिसने अप्रैल माह के बाद अपनी दूसरी खुराक ली है उसे फरवरी माह तक का इंतजार करना पड़ेगा।

कोविशील्ड वैक्सीन ही लगेगी

सरकारी आदेशानुसार  एहतियाती खुराक के तौर पर दी जाने वाली वैक्सीन  पहली और दूसरी खुराक के भांति ही होगी। इसका मतलब यह है कि कोविशील्ड से पूरी तरह से टीका लगाने वाले लाभार्थियों को ही कोविशील्ड दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें :

Corona Cases in Mumbai and Delhi: दिल्ली और मुंबई में कोरोना के मामलों में उछाल, एक दिन में 20-20 हज़ार नए केस

Fast Growing Corona Infection : तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, यूपी के कई जिलों में बढ़ी सख्ती

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर