Report : रिपोर्ट

चीन (China) और ताइवान (Taiwan) के बीच आपसी मनमुटाव बढ़ता ही जा रहा है। रविवार को चीन के कुछ लड़ाकू विमान बिना बताये ताइवान की वायु सुरक्षा में घुसपैठ कर गए। जिसके बाद जवाबी कार्रवाई करते हुए ताइवान रेडियो चेतावनी सिस्टम ( Radio warning system ) ने चेतावनी देना शुरू कर दिया।

ताइवान रक्षा मंत्रालय ने दी रिपोर्ट

ताइवान के ( MND ) रक्षा मंत्रालय ने बताया की PLAAF पीपुल्स लिबरेशन आर्मी एयर फोर्स और (SHAANXI Y8 fighter plane) शानक्शी वाई 8 इलेक्ट्रॉनिक युद्धक विमान ताइवान के दक्षिण पश्चिम हिस्से के ADIZ क्षेत्र में प्रवेश कर गया।

पहले भी घुसपैठ कर चुका है चीन

ताइवान सुरक्षा व्यवस्था ने कड़े शब्दों में इसका विरोध किया है उसकी वजह साफ है क्योंकि चीन इस से पहले 5 दिसंबर , 12 दिसंबर और 17 दिसंबर को प्रवेश कर चुका था इस बात का विरोध करते हुए ताइवान ने कहा कि चीन अब तक 22 स्पॉटर प्लेन ( Spotter Planes) 36 फाइटर प्लेन ( Fighter plane) के साथ साथ 2 बॉम्बर्स (Bombers) को भेज चुका है।

ताइवान की रक्षा प्रणाली मुस्तैद

ताइवान की वायु सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। उन्होंने कहा है कि अगर चीन को आना है या कुछ काम है तो इजाजत लेकर भी आ सकता है ऐसे जिद्दी अंदाज में वो कभी प्रवेश नहीं कर सकता। दोनो ही देशों के बीच आपसी सहमति बनी हुई है और ग्रीन जोन भी एक्टिव है जिसका उदहारण ताइवान ने चीन के विमान वापस भेज कर साबित कर दिया है।

ये भी पढें :-

उत्तराखंड स्कूल में हुआ जातीय भेदभाव, दलित महिला के हाथों से बने खाने से किया छात्रों ने मना

Autonomous Weapons: आखिर क्या है किलर रोबोट्स, क्यों उठी बैन लगाने की मांग

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर