Tuesday, August 16, 2022

Children’s vaccination: पहले दिन 42 लाख किशोरों को लगी वैक्सीन, पीएम मोदी ने जताई खुशी

नई दिल्ली. देशवासियों को कोरोना संक्रमण Corona virus से बचाने के लिए केन्द्र सरकार लगातार प्रयासरत है। इसी के तहत 15 से 18 साल तक के किशोरों के लिए तीन जनवरी से वैक्सीनेशन शुरू किया गया है। टीकाकरण के पहले दिन बच्चों एवं अभिभावकों में काफी उत्साह देखा गया। राज्य सरकारों ने भी इसके लिए खास तैयारियां की हुई थीं। पहले दिन देशभर में करीब 42 लाख बच्चों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई। कोविन वेबसाइट के मुताबिक, वैक्सीन के लिए अब तक देशभर में 55 लाख से अधिक बच्चे अपना रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं।

पीएम मोदी ने खुशी जाहिर की

देश के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चों में वैक्सीनेशन को लेकर खुशी जाहिर की है। उन्होंने सोमवार रात एक ट्वीट के जरिए बच्चों का हौंसला बढ़ाते हुए लिखा कि आज हमने अपने युवाओं को कोरोना संक्रमण से बचाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। 15-18 आयु वर्ग के मेरे सभी युवा मित्रों को टीका लगवाने के लिए बधाई। उनके माता-पिता को भी बधाई। मैं आने वाले दिनों में और अधिक युवाओं से टीकाकरण कराने का आग्रह करता हूं।

कुछ राज्यों में दिखा उत्साह तो कुछ रहे उदासीन

बच्चों के वैक्सीनेशन के प्रति देशभर के राज्यों में अलग-अलग रवैया दिखाई दिया। पहले दिन बच्चों को टीका लगाने में सबसे टॉप पर रहा मध्य प्रदेश। राज्य मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने दावा किया कि एमपी में पहले दिन 10 लाख से ज्यादा किशोरों को वैक्सीन लगाई गई। इसके बाद दूसरे पाएदान पर रहा गुजरात, जहां लगभग 5,60,000 बच्चों को वैक्सीन लगी। इसके अलावा कर्नाटक में 4,20,000 राजस्थान में 3,62,000 तमिलनाडु में करीब 2,00,000 महाराष्ट्र में 1,83,000 बिहार में 1,73,000 यूपी में 1,70,000 और पश्चिम बंगाल में 1,00,000 से अधिक बच्चों को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई। हैरत की बात है देश की राजधानी दिल्ली और पंजाब में वैक्सीनेशन को लेकर उदासीन रवैया देखा गया। दिल्ली में कुल 21,000 और पंजाब में महज 2300 बच्चे ही वैक्सीनेशन कराने पहुंचे।

यह भी पढ़ें :

Covid 19 Update: देश में कोरोना विस्फोट 24 घंटे में 37,379 नये मामले, महाराष्ट्र-दिल्ली की हालत खराब

Fight Between Two Student Groups : दो छात्र गुटों में मारपीट, 50 के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज

 

Latest news