Sunday, September 25, 2022

JDU ने अलग की भाजपा से राहें, 4 बजे राज्यपाल से मिलकर गठबंधन तोड़ने का ऐलान करेंगे नीतीश

पटना, बिहार में इस समय बड़ा सियासी उलटफेर देखने को मिल रहा है. जेडीयू की बैठक खत्म हो गई और इस बैठक में जेडीयू ने भाजपा से गठबंधन तोड़ने का फैसला किया है. बैठक में जेडीयू के विधायकों, सांसदों और नेताओं ने नीतीश कुमार से कहा है कि वे उनके साथ हैं. उनका कहना है कि नीतीश कुमार जो भी फैसला लेंगे, उसमें वे सब साथ रहेंगे.

राज्यपाल से मिलकर नई सरकार का दावा पेश करेंगे नीतीश

सियासी उलटफेर के बीच नीतीश ने राज्यपाल से मिलने के लिए वक्त माँगा था, जिसके बाद उन्हें 4 बजे का वक्त दिया गया है. 4 बजे नीतीश कुमार राज्यपाल से मुलाक़ात करेंगे और इस मुलाक़ात के बाद वे गठबंधन तोड़ने का ऐलान कर सकते हैं.

तेजस्वी ने माँगा गृह मंत्रालय

बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार की जेडीयू और आरजेडी में सरकार गठन के फॉर्मूले पर चर्चा हो रही है, वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश से गृह मंत्रालय की मांग की है. रिपोर्ट्स की मानें तो नई सरकार में तेज प्रताप को भी जगह मिल सकती है.

“राजतिलक की करो तैयारी”

बिहार में सियासी उलटफेर के कयासों के बीच पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की बेटी ने ट्वीट कर बड़ा संकेत दे दिया है. बिहार में सियासी घमासान के बीच लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने ट्वीट कर कहा, “राजतिलक की करो तैयारी आ रहे हैं, लालटेन धारी.” रोहिणी आचार्य का ये ट्वीट ऐसे वक्त पर आया, जब राज्य की राजनीति में बड़े उलटफेर की चर्चा है. एनडीए गठबंधन तोड़ने का फैसला हो गया है, और किसी भी वक्त नीतीश इसका एलान कर सकते हैं. वे आरजेडी और कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार बना सकते हैं, वहीं कांग्रेस और लेफ्ट दलों ने राजद नेता तेजस्वी यादव को समर्थन का पत्र भी सौंप दिया है.

तेजस्वी का हर फैसला मंजूर- RJD

बिहार में एक ओर जहाँ एनडीए की सरकार जाती नज़र आ रही है तो वहीं दूसरी ओर महागठबंधन की बैठक में आरजेडी के विधायक, एमएलसी और राज्यसभा सांसदों ने तेजस्वी यादव को फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है. इस दौरान सभी नेताओं ने कहा है कि वे तेजस्वी के साथ हैं और उनका जो भी फैसला होगा वो उन्हें मंजूर है.

 

 

Latest news