बिहार. राजधानी पटना में स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल NMCH में लगातार तीसरे दिन कोरोना विस्फोट हुआ है। मंगलवार को अस्पताल में कुल 77 लोग कोराना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन संक्रमितों में 59 डॉक्टर और मेडिकल स्टूडेंट भी शामिल हैं जिनकी RT-PCR जांच पॉजिटिव आई है। हैरानी की बात यह है कि इन सभी में कोरोना के लक्षण बिल्कुल नहीं या बेहद हल्के लक्षण थे। फिलहाल सभी संक्रमितों को NMCH के आइसोलेशन वॉर्ड में रखा गया है।

कोरोना का हॉट स्पॉट बना NMCH

NMCH में एक साथ इतने डॉक्टरों और मेडिकल स्टूडेंट्स के कोरोना संक्रमित पाए जाने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बीते तीन दिनों में यहां कुल 227 डॉक्टर और मेडिकल स्टूडेंट कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। जहां 2 जनवरी को 84, 3 जनवरी को 72 और 4 जनवरी यानि मंगलवार को 59 डॉक्टर और मेडिकल स्टूडेंट कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। एनएमसीएच के प्रिंसिपल डॉक्टर हीरालाल महतो के अनुसार अस्पताल प्रसाशन सकते में हैं और बाकी कर्मचारियों की कोरोना जांच भी करवाई जा रही है। फिलहाल इस खबर से राज्य के बाकी अस्पताल भी अलर्ट मोड में आ गए हैं। वे भी कोरोना संबंधी गाइडलाइन का सख्ती से पालन करा रहे हैं।

राज्य में लगातार बढ़ रहे मामले

राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार बिहार में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के कुल 893 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से अकेले पटना जिले से ही सबसे ज्यादा 565 लोगों के पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। इसके बाद 99 संक्रमितों के साथ गया दूसरे नंबर है जबकि मुजफ्फरपुर में 47 कोरोना रोगी मिले हैं।

यह भी पढ़ें :

Javed Akhtar trolled: मुस्लिम महिलाओं की नीलामी को लेकर सवाल उठाया तो ट्रोल्स बोले इनके दादा ने हनुमानगढ़ी गिराने का फतवा जारी किया था

Night Curfew in Uttar Pradesh: प्रदेश में मकर संक्रांति तक बंद रहेंगे 10वीं तक के सभी स्कूल, 6 जनवरी से लगेगा नाइट कर्फ्यू

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर