पटना. देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। बिहार Bihar में भी पिछले 24 घंटे में कोरोना का विकराल रुप देखने को मिला है। रविवार यानि कल बिहार में कोरोना संक्रमण के 352 नए मामले सामने आए। इसमें से अकेले राजधानी पटना से ही 110 डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी सहित कुल 229 कोरोना मरीज मिले हैं।

नालंदा मेडीकल कॉलेज में कोरोना विस्फोट

प्रदेश के अस्पतालों में कोरोना संक्रमितो का इलाज करने के लिए मेडीकल टीमें दिन-रात काम कर रही है। कल नालंदा मेडिकल कालेज में एक विशेष जांच शिविर लगाया गया जिसके अंतर्गत कोरोना वॉरियर्स की जाचें कराई गई। हैरानी की बात है कि इसमें (NMCH) के 84 सीनियर और जूनियर डाक्टरों की आरटीपीसीआर जांच पॉजिटिव मिली है। इससे कालेज से लेकर अस्पताल प्रशासन तक सकते में आ गया है। अधीक्षक डा. विनोद कुमार सिंह ने इस खबर की पुष्टि की है।

AIIMS पटना की चिकित्सक टीम भी संक्रमित

नालंदा मेडिकल कालेज की तर्ज पर अन्य अस्पतालों में भी कोरोना वॉरियर्स की चांजे हुईं। अन्य संक्रमितों में एम्स पटना के पांच डॉक्टर और 10 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव मिले, वहीं पीएमसीएच के चार डॉक्टर और दो स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित पाए गए। इसके अलावा आईजीआईसी में तीन डॉक्टर और दो स्वास्थ्यकर्मी समेत पांच संक्रमित शामिल हैं। अस्पताल के अधिकारियों के अनुसार पाए गए सभी कोरोना संक्रमितों को होम आइसोलेशन में रखा गया है।

यह भी पढ़ें :

Uttar Pradesh: योगी सरकार का बड़ा ऐलान, आज से प्रदेश के दो करोड़ श्रमिकों को मिलेगा भरण पोषण भत्ता

Meerut Got the Gift of Sports University : मेरठ को मिला खेल विश्वविद्यालय का तोहफा, पीएम मोदी ने किया शिलान्यास

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर