Monday, August 15, 2022

महाराष्ट्र सियासी संकट : संजय राउत के बिगड़े बोल, बोले- 40 विधायकों का शव….

मुंबई, महाराष्ट्र सियासी संकट गहराया हुआ है. इसी बीच राज्यसभा में शिवसेना सांसद संजय राउत ने एक बेहद विवादित बयान दे दिया है. दरअसल एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने बागी विधायकों पर निशाना साधते हुए कुछ ऐसा कह दिया जिसे सुन सब दंग रह गए. राउत ने कहा कि “गुवाहाटी से सीधे 40 विधायकों का शव मुंबई आएगा, जिसे पोस्टमॉर्टम के लिए विधानसभा भेजेंगे.

राजयपाल ने लिखा DGP को पत्र

महाराष्ट्र में जारी सियासी बवाल के बीच अब महराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राज्य के डीजीपी को (शिंदे कैंप के) पत्र लिखा है. जहां उन्होंने इस पत्र में बागी विधायकों और उनके परिवारों को तत्काल आधार पर सुरक्षा प्रदान करने की मांग की है. बता दें, बीते दिनों शिवसेना के बागी विधायकों के महाराष्ट्र स्थित आवास पर हमले की खबर सामने आ रही थी. इस बीच शिवसेना के बागी विधायक असम के गुवाहाटी में अपना डेरा जमाए बैठे हुए हैं. इस दौरान उनके और उनके परिवार जनों के लिए राज्यपाल ने डीजीपी से सुरक्षा की मांग की है.

पवार बोले – CM ठाकरे के साथ

इस सियासी बवाल के बीच जहां बागी नेताओं ने लगातार भाजपा नेताओं के मिलने की खबर सामने आ रही है वहीं एनसीपी नेता शरद पवार ने भी शिवसेना को अपना सर्थन जाहिर कर दिया है. राकांपा प्रमुख शरद पवार ने दिल्ली में मीडिया से हुई बातचीत के दौरान कहा कि हमारी पार्टी का पूरा समर्थन सीएम उद्धव ठाकरे के साथ है. मैं कल राष्ट्रपति चुनाव के लिए यशवंत सिन्हा के नामांकन के लिए दिल्ली आया हूँ. बता दें, जल्द इस बार राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार हैं.

“राजनीति नहीं, कानूनी लड़ाई होगी”- अरविन्द सावंत

महाराष्ट्र सियासी संकट के बीच शिवसेना ने अब यह साफ़ कर दिया है कि सियासत पर अधिपत्य जताने की यह लड़ाई अब केवल राजनीतिक ही नहीं बल्कि कानूनी रूप भी लेने वाली है. इस बात को मीडिया कॉन्फ्रेंस के दौरान शिवसेना के लोकसभा सांसद अरविन्द सावंत ने कहा है. जहां बागी विधायकों पर हुई शिवसेना की इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, ‘अब यह लड़ाई राजनीति नहीं कानूनी होगी.’ बता दें, रविवार को शिवसेना की मुश्किलें और भी बढ़ती नज़र आ रही हैं. जहां शिवसेना के एक और विधायक व महाराष्ट्र सरकार में उच्च शिक्षा व तकनीकी मंत्री उदय सामंत भी गुवाहाटी पहुँच चुके हैं. बता दें, यह शिवसेना के आंठवे मंत्री होंगे जिसने शिंदे खेमे में एंट्री ली है.

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news