अजान vs हनुमान चालीसा:

मुंबई।  महाराष्ट्र की राजनीति में लाउडस्पीकर को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. महाराष्ट्र नव निर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे ने मंगलवार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर आज 4 मई को मस्जिदों में लाउडस्पीकर से अजान हुई तो उसका जवाब हनुमान चालीसा से दिया जाएगा. मनसे प्रमुख की इस चेतावनी ने महा विकास आघाड़ी सरकार और महाराष्ट्र पुलिस की मुश्किले बढ़ गई है।

जारी किया पत्र

मनसे प्रमुख राज ठाकरे ने अपने ट्वीटर हैंडल से मंगलवार शाम एक पत्र जारी किया. जिसमें उन्होंने लिखा कि लाउडस्पीकर धार्मिक नहीं सामाजिक मुद्दा है और अगर किसी मस्जिद से 4 मई को लाउडस्पीकर से अजान सुनाई दी तो उसके जवाब में हनुमान चालीसा बजनी चाहिए. राज ने आगे लिखा कि जिन लोगों ने समाज के प्रति संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर को उतारने का निर्णय लिया है. मैं उनका स्वागत करता हूं।

पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

लाउडस्पीकर विवाद के बीच मुंबई में मनसे प्रमुख राज ठाकरे के आवास के बाहर पुलिस की सुरक्षा बढ़ा दी गई है और मुंबई के पुलिस कमिश्नर संजय पांडे पूरे शहर में कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा के लिए विभिन्न थानों का दौरा कर रहे हैं।

मनसे नेताओं को नोटिस

राज ठाकरे की इस चेतावनी के बाद कानून व्यवस्था में गड़बड़ी की संभावनाओं को लेकर महाराष्ट्र पुलिस मनसे नेताओं को नोटिस भेज रही है. जिसमें चेतावनी दी जा रही है कि अगर उन्होंने इस विवाद को लेकर किसी भी तरह का उपद्रव या सरकारी संपत्ति का नुकसान किया तो उसकी भरपाई की जाएगी।

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर