लखनऊ : Uttar Pradesh

साल 2022 का चुनाव देश भर में सबसे अहम माना जा रहा है उसकी बहुत सारी वजहें हैं लेकिन किसान आंदोलन और राकेश टिकैत की लोकप्रियता ऐसी बढ़ी है कि भाजपा की नींद उड़ गई है। ऐसे माहौल में राकेश टिकैत का तिरंगा लिया फोटो का समाजवादी नेता अखिलेश यादव और रालोद नेता जयंत चौधरी के साथ आ जाने से राजनीतिक गलियारे के साथ साथ भाकियू में हड़कंप सा मच गया है।

NH 58 पर लगा अखिलेश जयंत का पोस्टर, भाकियू ने जताई नाराज़गी

उत्तर प्रदेश के चुनावी बिगुल में किसान आंदोलन के खत्म होने के ऐन मौके पर मेरठ के एनएच 58 पर समाजवादी नेता अखिलेश यादव और रालोद नेता जयंत चौधरी के साथ राकेश टिकैत का तिरंगा लिए पोस्टर आने से भाकियू ने इसे राजनीतिक स्टंट करार दिया है।

राजनीति में इस्तेमाल ना हो किसान यूनियन के नेता का नाम

भाकियू ने साफ लफ्जों में कहा है कि कोई भी नेता उनके नेता टिकैत की तस्वीर चुनावी स्टंट के लिए इस्तेमाल न करे।

यह भी पढ़ें :

राकेश टिकैत आज निकालेंगे फतेह मार्च, गाजीपुर बॉर्डर पर हवन करने के बाद करेंगे घर वापसी

Leena Nair Of Kolhapur फ्रांस की बड़ी कंपनी में अब भारत का परचम, लीना बनीं सीईओ

 

SHARE

Live Blog

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App