नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट में जल्द ही अयोध्या राम मंदिर मामले पर सुनवाई शुरू होने वाली है. अध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर ने कोर्ट से बाहर इस मामले को सुलझाने की पहल शुरू कर दी है. इस मुद्दे पर श्री श्री रविशंकर ने इंडिया न्यूज के एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया के साथ एक्सक्लूसिव बातचीत की. बातचीत के दौरान श्री श्री ने कहा कि इस मुद्दे का हल कोर्ट से बाहर ही निकाला जाए तो अच्छा है वरना हालात बिगड़ सकते हैं. श्री श्री ने कहा कि कोर्ट में किसी एक पक्ष की जीत होगी और दूसरे की हार. इससे देश में गृहयुद्ध के हालात बन सकते हैं.

दीपक चौरसिया से बातचीत में श्री श्री ने बताया कि उन्होंने राम मंदिर मुद्दे का हल निकालने के लिए एक फॉर्मूला निकाला है. इस सिलसिले वे कई पक्षों से बातचीत कर चुके हैं. इंडिया न्यूज के एडिटर इन चीफ ने उनसे सवाल किया कि आज उनकी पहल कहां तक पहुंची. इसका जवाब देते हुए श्री श्री ने कहा कि पहल अच्छी गति से आगे बढ़ रही है. उन्होंने कहा कि कोर्ट ने पहला विकल्प ही आपसी बातचीत का सुझाया था. हम इसी दिशा में काम कर रहे हैं.

श्री श्री ने कहा कि कोर्ट का आदेश एक पक्ष में आएगा जिससे देश में अशांति फैलने की संभावना है. उन्होंने कहा कि अगर कोर्ट निर्णय दे दे तो वह तीन विकल्प दे सकता है पहला अगर मंदिर के लिए जगह देने की बात की जा सकती है. इस पर कुछ मुसलमान पक्ष के लोग मान जाएंगे और मंदिर के लिए जगह दे देंगे. लेकिन जब 50-60 साल बाद युवाओं को लगेगा कि उनको न्याय नहीं लगा तो देश उग्रवाद की तरफ बढ़ने लगेगा. उन्होंने कहा कि यह जन्मभूमि है वह तो हटाई नहीं जा सकती. इससे भी देश में रक्तपात का माहौल पैदा हो जाएगा.

दीपक चौरसिया के साथ श्री श्री की पूरी बातचीत सुनने के लिए देखिए ये वीडियो…

अयोध्या विवाद जल्द नहीं सुलझाया गया तो सीरिया बन जाएगा भारत- श्री श्री रविशंकर

वसीम रिजवी ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड को लिखा पत्र, कहा- जैन मदिरों को तोड़कर बनाया गया कुतुब मीनार