नई दिल्ली. इन दिनों पैडमैन के नाम से चर्चित अक्षय कुमार ने 9 फरवरी को रिलीज हो रही अपनी फिल्म पैडमैन को लेकर इंडिया न्यूज के एडिटर इन चीफ दीपक चौरसिया से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने बताया कि वे महिलाओं से जुड़ी मासिक धर्म की समस्या पर फिल्म ‘पैडमैन’ बनाने से बिल्कुल भी नहीं हिचकिचाए क्योंकि ये एक बॉयलॉजिकल और प्राकृतिक चीज है. उन्होंने बताया कि लोग इसपर बात करने से बचते हैं जबकि इसमें छुपाने जैसा कुछ नहीं है.

आर बालकी की इस फिल्म के विचार को लेकर अक्षय ने कहा कि उनकी पत्नी ट्विंकल खन्ना ने उन्हें अरुणाचलम मुरुगनाथम नाम के शख्स के बारे में बताया जिसने अपनी पत्नी की मासिक धर्म की पीड़ा को देखकर इस चीज के लिए लोगों को जागरुक किया था. अक्षय ने बताया कि ट्विंकल इसपर छोटी फिल्म बनाना चाहती थी लेकिन उन्होंने इस बड़े स्तर पर बनाया. ऐसी फिल्मों को लेकर कमर्शियल सक्सेस के डर और कमाई की उम्मीदों से जुड़े सवाल पर अक्षय ने कहा कि पैडमैन से कोई घबराहट नहीं है, बल्कि मुझे सोशल मीडिया पर लोगों की प्रतिक्रियाएं देखकर यकीन हो गया कि फिल्म हिट हो गई है.  अक्षय ने बताया कि वे पहले भी ऐसे मुद्दों पर फिल्में बनाना चाहते थे लेकिन तब पैसे नहीं थे कि फिल्म प्रोड्यूस कर सकें. अक्षय ने कहा कि मैंने फिल्म से मेसेज दिया है, समझना या न समझना लोगों के हाथ में है.

राजनीति में आने को लेकर पूछे गए सवाल पर अक्षय ने कहा कि, मैं एक कलाकार हूं और ऐसी फिल्में बनाना चाहता हूं जिससे कि बदलाव आए, राजनीति में नहीं आना चाहता. इसके अलावा अक्षय ने बताया कि वे बहुत जल्द युद्ध पर आधारित फिल्म ‘केसरी’ बनाने जा रहे हैं जो कि बैटल ऑफ सारागड़ी पर आधारित है.

अक्षय कुमार ने बनाया नया रिकॉर्ड भारत के साथ रूस में भी एक साथ रिलीज़ होने वाली पहली बॉलीवुड फिल्म बनी पैडमैन

पैडमैन फिल्म की एक्ट्रेस राधिका आप्टे बोलीं- पहले पीरियड्स पर मुझे मिला था परिवार से गिफ्ट