नई दिल्ली. अगर आपको याद हो तो पिछले दिनों एक तस्वीर विवादों में रही थी. जिस तस्वीर को देखकर लोग हैरान हो गए थे. ये तस्वीर थी बब्बो उर्फ सुखविंदर कौर उर्फ स्वघोषित राधे मां की. बता दें ये तस्वीर कल्कि महोत्सव के मौके पर खिंची गई थी. उसी कल्कि की जिन्हें विष्णु का दसवां अवतार माना जाता है. ऐसे महोत्सव पर कुछ ऐसे लोगों ने उसे भक्ति के नाम पर स्वांग रचने के लिए मंच दिया जो पिछले लंबे समय से इनका विरोध कर रहे थें. लेकिन सवाल ये खड़ा होता है कि जिसे अखाड़ा परिषद ने फर्जी घोषित कर दिया उसकी भक्ति के भ्रष्टाचार में ऐसे लोग क्यों लीन हैं? क्या इसके पीछे उनका कोई स्वार्थ है? या फिर वो मीडिया का ध्यान खींचना चाहते हैं? इन सभी महत्वपूर्ण सवालों के जवाब लेने के लिए इंडिया न्यूज के शो में पता लगाने की कोशिश की गई. महत्वपूर्ण सवालों के जवाब लेने के लिए खुद प्रमोद कृष्णम हैं जिन्होंने स्वघोषित राधे मां को चीफ गेस्ट बनाकर बुलाया था. इसके साथ शो में उन्हें भी बुलाया गया जिन्होंने राधे मां के डांस पर खूब तालियां बजाई. जी हां, एचएस रावत जो भ्रष्टाचार की भक्ति में ये लीन दिखें. साथ ही सुरेंद्र मित्तल भी हैं जिन्होंने बब्बो उर्फ राधे मां को बेनकाब किया था. 

पूरा शो देखें वीडियो में

पद्मावती विवाद: सियासी चक्रव्यू में फंसी पद्मावती, राजपूत संगठनों ने बगैर फिल्म दिखाए रिलीज ना करने की दी धमकी

भारत के खिलाफ चीन की खतरनाक साजिश, 1000 किमी लंबी सुरंग में बना रहा है पानी बम