नई दिल्ली: सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां से जब ये सवाल पूछा गया कि आप साधू हैं और साधू इस तरह लाखों के कपड़े और गहने नहीं पहनते तो इसपर राधे मां ने कहा कि मेरे बच्चे इंडस्ट्रियलिस्ट हैं और मेरे पति भी विदेश से कमाकर लौटे हैं. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि वो गृहस्थ आश्रम में नहीं हैं. उन्होंने कहा कि ये मेरा लाइफस्टाइल है और मैं किसी के लिए अपना लाइफस्टाइल चेंज नहीं कर सकती. राधे मां से जब उनके कपड़ों को लेकर और सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ये घोर कलयुग है और जैसे देश वैसा भेस रखना चाहिए. नाच गाने को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में राधे मां ने कहा कि वो भगवान के आगे नाचती हैं और भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए नाचती हैं. बाबा राम रहीम के बारे में उन्होंने कुछ भी कहते हुए मना कर दिया कि वो राम रहीम से कभी नहीं मिली. 
 
सुरेंदर मित्तल द्वारा धमकाने के आरोपों पर राधे मां ने कहा कि मैं उनसे कभी नहीं मिली. डॉली बिंद्रा के बारे में भी उन्होंने कहा कि सुरेंदर मित्तल और डॉली बिंद्रा के दोस्त हैं. इसके अलावा उन्होंने इस विवाद पर कुछ भी कहने से मना कर दिया. राधे मां ने कहा कि जब उनपर आरोप लगे तो वो डिप्रेशन में चली गई और अब वो दवाई ले रही हैं तो ठीक हैं. उन्होंने कहा कि आज भी मेरे दरबार में नेता-राजनेता सब आते हैं. हालांकि कौन-कौन नेता उनके दरबार में आते हैं इस बारे में उन्होंने कुछ नहीं कहा. 
 
इंडिया न्यूज ने जब उनसे सवाल पूछा कि उनपर तंत्र-मंत्र करने का आरोप लगता है तो राधे मां ने कहा कि अगर मुझे तंत्र-मंत्र आता तो वो डॉली बिंद्रा को अपने पास ना बुला लेतीं. फिल्मी गानों पर नाचती राधे मां से जब ये सवाल पूछा गया कि उनका सबसे पसंदीदा गाना कौन सा है तो राधे मां ने कहा कि उन्हें ‘ लगजा गले के फिर ये हंसी राज हो ना हो…’ गाना बहुत पसंद है. 
 
राधे मां पर विवाद:
 
साल 2015 में राधे मां की पूर्व भक्त डॉली बिंद्रा ने उनपर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया. 
मुंबई के एक वकील ने राधे मां पर कीर्तन के दौरान अश्लील हरकतें करने का आरोप लगाया.
राधे मां का एक ऑडियो टेप वायरल हुआ जिसमें वो सुरेंदर मित्तल नाम के एक शख्स से फर्ल्ट करती सुनाई दे रही थीं.
2015 में निक्की गुप्ता नाम की एक महिला ने राधे मां पर दहेज उत्पीड़न का आरोप लगाया. 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App