नई दिल्ली: आरुषि के मम्मी पापा 9 साल लंबी कानूनी लड़ाई लड़ने के बाद आज जेल से बाहर आ गए. शाम 4 बजकर 59 मिनट का समय डॉक्टर राजेश तलवार और डॉक्टर नुपुर तलवार अब शायद पूरी उम्र नहीं भूलेंगे. उन्हें जिंदगी दोबारा तो मिल गई लेकिन इसके साथ ही साथ आरुषि की याद उन्हें बेहिसाब दर्द भी दे रही होगी.
 
16 अक्टूबर 2017 को शाम 4 बजकर 59 मिनट पर गाज़ियाबाद की डासना जेल का दरवाज़ा खुलता है. आधे बाजू की सफेद शर्ट और काली पैंट पहने राजेश तलवार और सलवार कुर्ता पहने उनकी पत्नी और आरुषि की मम्मी डॉक्टर नुपुर तलवार निकलती हैं. नुपुर तलवार ने जिस रंग का कुर्ता पहना है वो सूरज की पहली किरण के समय आसमान में जो लाली होती है, उस रंग का है. उनकी लाडली आरुषि का मतलब भी तो यही होता है.
 

(वीडियो में देखें पूरा शो)
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App