नई दिल्ली: विराट कोहली ये नाम ही अब हिंदुस्तान में जीत का पर्याय बन गया है. हिंदुस्तान में क्रिकेट की शुरुआत हुए 80 से ज्यादा साल हो चुके हैं लेकिन क्रिकेट में महज़ साढ़े 8 साल के करियर वाले विराट में ऐसा क्या है कि ये खेल उन्हें सबसे बड़ा मानता है. श्रीलंका के खिलाफ मौजूदा सीरीज़ में जिस तरह से विराट ने टीम को जीत दिलाई वो इसकी एक बानगी है. 
 
विराट से पहले टेस्ट क्रिकेट में हिंदुस्तान में कुल 268 बल्लेबाज़ खेले और वनडे में लगभग 500 लेकिन उसके बाद भी विराट में कुछ ऐसा है जो उनसे पहले भारत के लिए खेले लगभग साढे सात सौ बल्लेबाजों में नहीं था. करिश्मा सचिन में भी था और विराट में भी है. लेकिन कुछ ऐसा है जो मौजूदा क्रिकेट में विराट को कई मायनों में दुनिया के बाकी सभी बल्लेबाजों के करिश्मे से बड़ा बनाता है.
 
क्रिकेट की दुनिया में सोचे और समझे जाने वाले सभी रिकॉर्ड्स धीरे धीरे विराट के नाम होते जा रहे हैं. विराट अपने बल्ले से क्रिकेट की दुनिया के स्थापित नामों और प्रतिमानों दोनों को ध्वस्त करते जा रहे हैं. विराट ने सिर्फ 175 वनडे पारियों में 8000 रन पूरे किए. ये वर्ल्ड रिकॉर्ड है.
 
T-20 में सबसे कम पारियों में 1000 रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड. बतौर टेस्ट कप्तान पहली तीन पारियों में शतक बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड, सबसे कम पारियों में 1000 वनडे रन बनाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड. वनडे में सबसे तेज़ 27 शतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी विराट के नाम है.
 
इसके अलावा विराट के नाम कई और भारतीय रिकॉर्ड्स भी हैं लेकिन उसकी बात बाद में पहले देखिए लक्ष्य का पीछा करने में क्यों कोहली को दुनिया किंग कोहली के नाम से जानती है. लक्ष्य का पीछा करते हुए विराट के वनडे में 18 शतक हैं जो वर्ल्ड रिकॉर्ड है. पहले ये वर्ल्ड रिकॉर्ड 17 शतक के साथ सचिन के नाम था. 
 
सचिन ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 232 पारियों में 17 शतक लगाए थे जबकि विराट ने सिर्फ 102 पारियों में 18 शतक लगा दिए. लक्ष्य का पीछा करते हुए विराट की औसत के आस पास दुनिया का कोई बल्लेबाज़ नहीं है. विराट ने लगभग हर मैच में ना सिर्फ रन बनाए हैं बल्कि जीते हुए मैचों में वहीं रहे हैं जीत का सबसे बड़ा कारण. 
 
लक्ष्य का पीछा करते हुए जीते हुए मैचों में विराट ने 63 पारियों में 3919 रन बनाए हैं. 97.97 के बेमिसाल औसत से, 16 शतक और 17 अर्धशतक के साथ, विराट इस समय दुनिया की क्रिकेट का ना सिर्फ सबसे बड़ा नाम हैं बल्कि वो ऐसे नाम हैं जिनको देखकर पीढ़ियां क्रिकेट खेलना सीख रही हैं.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App