नई दिल्ली. धर्मस्थलों पर महिलाओं को पुरुषों के बराबर हक दिलाने की लड़ाई अब हाजी अली दरगाह के सामने लड़ी जा रही है. भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई हाजी अली दरगाह के बाहर धरने पर हैं. क्या हाजी अली में महिलाओं को बराबरी का हक मिलेगा ? क्या आंदोलन के नाम पर पब्लिसिटी स्टंट कर रही हैं तृप्ति देसाई? 
 
2011 के बाद से महिलाओं के मजार तक जाने पर है पाबंदी 
हाजी अली दरगाह में 2011 के बाद महिलाएं मजार तक नहीं जा सकती. इसके खिलाफ़ बॉम्बे हाइकोर्ट में याचिका दायर की गई है, जिस पर फैसला आना अभी बाकी है. इससे पहले महाराष्ट्र के शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का सफल अभियान चलाने वालीं भूमाता ब्रिगेड की तृप्ति देसाई ने कहा था  कि वे इस दरगाह में प्रवेश करके रहेंगी.
 
आज इन्हीं सवालों पर होगी बड़ी बहस
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो:

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App