नई दिल्ली. दुनिया में नंबर वन सर्च इंजन गूगल ने आज वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) की 30वीं सालगिरह पर खास डूडल बनाया है. साल 1989 में 12 मार्च को ही वैज्ञानिक टिम बर्नर ली ने वर्ल्ड वाइड वेब का आविष्कार किया था. इसके जरिए यूजर्स URL की मदद से एक वेबसाइट से दूसरी वेबसाइट में आसानी से जाकर अधिक जानकारी ले सकते हैं. वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) दुनिया का सबसे पहला ब्राउजर है इसके लिए वैज्ञानिक टिम बर्नर ली ने एचटीएमएल लैंग्वेज और एचटीटीपी एप्लिकेशन पर पहले काम शुरु किया था.

वैज्ञानिक टिम बर्नर ली के प्रस्ताव में हाइपरटेक्स्ट लिंक भी थी जिससे यूजर्स एक पेज से दूसरे पेज आराम से जा सकते हैं. गूगल ने डूडल बनाते हुए आज की इसमें तकनीक के माइलस्टोन को एक एनीमेशन के साथ दिखाया है जिसमें ब्लॉक ग्राफिक्स थे जो पहले सामान्य थे. इसके साथ ही केंद्र में एक ग्लोब जो धीमी गति से डाउनलोड स्पीड को दर्शाता है. अगर टिम बर्नर ली के बारे में बात करें इंग्लैंड में जन्मे टिम ने कॉलेज और ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी से अपनी पढ़ाई की थी. साल 1989 में रोपीय नाभिकीय अनुसंधान संगठन (CERN) में उन्होंने वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) का आविष्कार किया था.

भले ही वर्ल्ड वाइड वेब का आविष्कार 1989 में हो गया था लेकिन साल 1992 में इसे जारी किया गया. इसके बाद साल 1993 में पूरी दुनिया ने इस पर काम करना शुरु किया था इससे पहले किसी के पास इसका ऐक्सेस नहीं था. आज के समय में करोड़ों यूजर्स इसकी मदद से पेज में टेक्स्ट, फोटोज, विडियोज और मल्टीमीडिया से संबंधित कई जानाकीर खोजते हैं.

Motorola Razr 2019: मोटोरोला के फोल्डेबल फोन मोटो रेजर में होंगी दो डिस्प्ले, सेंकडरी स्क्रीन में मिलेंगे लिमिटेड फंक्शन

Amazon Honor Days Sale: अमेजन मोबाइल सेल में ऑनर 8 सी, 8 एक्स, 7 सी और ऑनर प्ले स्मार्टफोन्स पर 7,000 रुपये तक की छूट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App