नई दिल्ली। कम उपयोग’ के कारण, फेसबुक कथित तौर पर कई सेवाओं को बंद कर रहा है जो आपके रियल टाइम लोकेशन को ट्रैक करती हैं। जिसमें आस-पास के दोस्त, लोकेशन हिस्ट्री और बैकग्राउंड लोकेशन शामिल हैं। टेक दिग्गज ने कहा कि वह 31 मई को इन सुविधाओं से संबंधित डेटा एकत्र करना बंद कर देगी और 1 अगस्त को किसी भी स्टोर्ड डेटा को साफ़ कर देगी।

कंपनी ने बयान में कही ये बात

मेटा के प्रवक्ता एमिल वाज़क्वेज़ ने कहा है कि , “हालांकि हम कम उपयोग के कारण फेसबुक पर कुछ स्थान-आधारित सुविधाओं को हटा रहे हैं, फिर भी लोग स्थान सेवाओं का उपयोग यह प्रबंधित करने के लिए कर सकते हैं कि उनके स्थान की जानकारी कैसे एकत्र और उपयोग की जाती है।”

रिपोर्ट के मुताबिक, इसका मतलब यह नहीं है कि टेक दिग्गज पूरी तरह से लोकेशन डेटा इकट्ठा करना बंद कर देगी। जैसा कि उपयोगकर्ताओं के लिए अपने नोट में कहा गया है, फेसबुक ने कहा कि वह अपनी डेटा नीति के अनुरूप प्रासंगिक विज्ञापनों और स्थान चेक-इन की सेवा के लिए “अन्य अनुभवों के लिए स्थान की जानकारी एकत्र करना जारी रखेगा”।

1 अगस्त को उडेगा ये डेटा

उपयोगकर्ता सेटिंग और गोपनीयता मेनू में किसी भी सहेजे गए स्थान डेटा को देख, डाउनलोड या हटा सकते हैं। अन्यथा, फेसबुक 1 अगस्त को अपनी बंद की गई सेवाओं से संबंधित किसी भी संग्रहीत डेटा को स्वचालित रूप से हटा देगा।

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर